स्वाइन फ्लू के तीन मरीज मिले, विभाग हुआ सक्रिय, 60 से 65 घरों का किया गया सर्वे

दीपका गेवरा में डेंगू से हुई किशोरी की मौत के एक माह भी पूरे नहीं हुए हैं कि कोयलांचल में स्वाइन फ्लू के तीन मरीज मिलने से चिंता बढ़ गई है।

By: Shiv Singh

Published: 22 Aug 2017, 11:36 AM IST

कोरबा. दीपका गेवरा में डेंगू से हुई किशोरी की मौत के एक माह भी पूरे नहीं हुए हैं कि कोयलांचल में स्वाइन फ्लू के तीन मरीज मिलने से चिंता बढ़ गई है।
स्वाइन फ्लू के तीन मरीज मिलने की पुष्टि स्वास्थ्य विभाग ने की है। ये मरीज बलगी, बांकीमोंगरा और बतारी मोड़ क्षेत्र में मिले हैं। फ्लू के प्रारंभिक लक्ष्य पाए जान के बाद इन क्षेत्र में रहने वाले तीन मरीजों को अपोलो रेफर किया गया था। बल्गम की जांच में फ्लू की पुष्टि हुई है। इसकी सूचना अपोलो अस्पताल ने प्रदेश सरकार को दी थी। सरकार ने उक्त जानकारी जिले के स्वास्थ्य विभाग को देकर रिपोर्ट मांगी थी। इसके बाद विभाग हरकत में आया। मरीज के पते पर पहुंचकर 60 से 65 घरों में सर्वे किया। एक रिपोर्ट बनाकर प्रदेश सरकार को भेजी गई है। विभाग का कहना है कि तीनों मरीज अगस्त महिने में ही मिले हैं। कानूनी प्रवधान के कारण फ्लू से प्रभावित मरीजों के नाम सार्वजनिक नहीं किए जा सकते हैं। फ्लू प्रभावित मरीजों की इलाज के लिए जिला अस्पताल में व्यवस्था की गई है।

विभाग ने जारी की एडवाइजरी- इधर, फ्लू को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने एक एडवाइजरी जारी की है। इसमें कहा गया कि यह बीमारी एच-१ एन-१ वाइरस से फैलती है। आमतौर पर बीमारी के वाइरस **** होते हैं। लेकिन जानवरों के लिए घातक नहीं होते हैं। लेकिन मानव को यह वाइरस नुकसान पहुंचाता है। समय पर इलाज नहीं मिलने से मौत तक हो जाती है। स्वास्थ्य विभाग ने फ्लू का लक्ष्ण पाए जाने पर सूचना प्रशासन को देने के लिए कहा है। यह बीमारी तेज से फैलती है। समय पर बचाव नहीं हुआ तो महामारी का रूप धारण कर लेती है।

क्या करें - खांसते या छींकते समय मुंह को रूमाल या टिशू पेपर से ढके
छींकने के बाद नाक, हाथ और मुंह को साबून से धोए
फ्लू से प्रभावित मरीज के सम्पर्क में आने से बचें
लक्ष्ण पाए जाने पर डॉक्टर से सलाह ले

ये नहीं करें- हाथ और गला मिलाने से बचें। चुंबन नहीं लें।
डॉक्टर सलाह के बिना दवाई न खाएं
प्रभावित जगह पर मास्क लागए बिना न जाए
भीड़ भाड़ वाले स्थान पर जाने से बचें

अगस्त महीने में स्वाइन फ्लू के तीन मरीज मिले हैं। संबंधित क्षेत्र में सर्वे किया गया है। कोई नया मरीज नहीं मिले हैं। फ्लू के बचाव के लिए सलाह जारी किए गए हैं।
डॉ. राकेश अग्रवाल, जिला सर्विलेंस अधिकारी, कोरबा

Shiv Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned