सतरेंगा में एंट्री करने वाले पर्यटकों को देना होगा 10 रुपए का शुल्क, ऑन लाइन होगी रिसॉर्ट की बुकिंग

Satarenga: वर्तमान में चालू की गई व्यवस्था बहाल रहे इसके लिए शनिवार को कलेक्टर किरण कौशल ने एक बैठक ली। इसमें अपर कलेक्टर, उद्यानिकी और सतरेंगा की देखरेख के लिए बनाई गई समितियों के पदाधिकारी शामिल हुए।

By: Vasudev Yadav

Published: 01 Mar 2020, 12:02 PM IST

कोरबा. मंत्रिमंडल की व्यस्तता से भले ही शनिवार को सतरेंगा में होने वाली कैबिनेट की बैठक टल गई, लेकिन प्रशासन पर्यटकों के लिए सुविधाएं उपलब्ध कराने में लगा है। आने वाले दिनों में यहां वॉटर स्पोट्र्स की सुविधा उपलब्ध होगी। दूसरे चरण में डुबान के टॉपुओं तक नौका विहार की सुविधां मुहैया कराई जाएगी। सतरेंगा पहुंचने वाले पर्यटकों से यहां की साफ सफाई और पार्किंग के लिए शुल्क वसूला जाएगा। हालांकि शुल्क का निर्धारण नहीं हुआ है। लेकिन संतरेगा में इंट्री करने वाले पर्यटकों को 10 रुपए की टिकट लेनी होगी। इसके लिए जल्द ही टिकट घर बनाया जाएगा।

वर्तमान में चालू की गई व्यवस्था बहाल रहे इसके लिए शनिवार को कलेक्टर किरण कौशल ने एक बैठक ली। इसमें अपर कलेक्टर, उद्यानिकी और सतरेंगा की देखरेख के लिए बनाई गई समितियों के पदाधिकारी शामिल हुए। पर्यटकों को रिझाने के लिए सतरेंगा में उद्यानिकी विभाग की ओर से गार्डन बनाई जा रही है। इसमें फूलों के 10 हजार से अधिक पौधे लगाए जा रहे हैं। मौसम के अनुसार फूल गार्डन में खिले, इसके लिए भी योजना बनाई गई है। उम्मीद है कि प्रशासन के इस कदम से सतरेंगा के करीब 300 ग्रामीणों को रोजगार उपलब्ध हो सकेगा।

सतरेंगा में पर्यटकों के लिए बनाए रिसॉर्ट की बुकिंग ऑन लाइन होगी, लेकिन रिसॉर्ट की देखरेख ग्रामीणों की समितियां करेंगी। इसके लिए पर्यटन मंडल कर्मचारी की नियुक्ति सतरेंगा में नहीं करेगा। आने वाले दिनों में यहां वॉटर स्पोट्र्स की सुविधा भी उपलब्ध होगी। इसके लिए पर्यटन मंडल की कवायद जारी है। बताया जा रहा है कि वॉटर स्पोट्र्स के लिए बोट खरीदी की प्रक्रिया चालू की गई है। आने वाले दिनों में बोट सतरेंगा पहुंच जाएंगी।

Read More: मुड़ापार बाजार के करीब मछली के थोक कारोबारी से साढ़े सात लाख की लूट, मचा हड़कंप

बालकोनगर से सतरेंगा तक बनेगी नई सड़क
सतरेंगा में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए जिल प्रशासन बालकोनगर-सतरेंगा मार्ग को भी दुरुस्त करने में लगा हुआ है। बालकोनगर से सतरेंगा तक की सड़क नए सिरे से बनाई जाएगी। इसके लिए प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत कार्य कराए जाएंगे। सड़क बनाने के लिए पीएमजीएसवाय ने निविदा की प्रक्रिया शुरू कर दी है। जल्द ही यह निविदा खोली जाएगी।

स्थानीय अधिकारियों का कहना है कि सड़क पूरी तरह जर्जर हो चुकी है। इसकी रिपेयरिंग करा पाना मुश्किल है। सड़क को बालकोनगर से सतरेंगा तक उखाड़ी जाएगी। इसके बाद नए सिरे से सड़क निर्माण की प्रक्रिया चालू होगी। इसमें लगभग एक साल का समय लगने की संभावना है। पिछले दिनों मुख्य सचिव के दौरे के बाद इस सड़क के लिए लगभग 34 करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए थे।

Vasudev Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned