लॅाक डाउन में बेटी के लिए नहीं मिल रही थी सिकिलिंग की दवाई, पिता ने कलेक्टर को किया फोन, दवा लेकर पहुंचा वालिंटियर

Lockdown: कटघोरा में कोरोना संक्रमण के कारण चल रहे सख्त लॅाक डाउन के बावजूद भी लोगों को अपनी जरूरत की सभी चीजें घर पहुंच सेवा से आसानी से उपलब्ध हो जा रही है।

By: Vasudev Yadav

Published: 18 Apr 2020, 11:04 AM IST

कोरबा. ग्राम पंचायत हुंकरा के धंवईपुर मोड़ के पास कटघोरा मेनरोड निवासी सिद्धार्थ महंत की आठ वर्षीय बेटी वर्षा पिछले छह सालों से सिकलिंग बीमारी से पीडि़त है। वर्षा को रोज फॅालिक एसिड के साथ एक अन्य दवा भी लेनी होती है। कटघोरा क्षेत्र में लॅाक डाउन के कारण लोगों को घरों से बाहर निकलने की सख्त मनाही है। ऐसे में बेटी वर्षा की दवाईयों का स्टाक खत्म होने के कारण सिद्धार्थ महंत ने बेटी की तबियत के प्रति चिंता जताते हुए कलेक्टर किरण कौशल को फोन कर बाहर निकलने की अनुमति चाही।

कलेक्टर ने पूरे मामले को ध्यान से सुना और महंत की बेटी के लिए जरूरी दवाईयां उपलब्ध कराने उन्हें घर पहुंच सेवा के वाट्सएप्प नंबर पर डाक्टर का पर्चा भेजने को कहा। महंत के पर्चा भेजते ही लगभग एक घंटे के भीतर कटघोरा के सिद्धी मेडिकल से दवाईयां लेकर एक वालिंटियर धंवईपुर मोड़ पर स्थित उनके घर पहुंच गया। महंत ने इन दवाईयों के लिए उसे 105 रुपए का भुगतान किया। यह दवाईयां वर्षा के लिए आने वाले 20 दिनों के लिए पर्याप्त होगी।

Read More: कोरोना को हराने मंजिल गुरुकुल के ये कर्मवीर बना रहे मास्क, रेलवे उपलब्ध करा रहा कपड़ा

जब फोन पर दवाईयां मिलने की जानकारी महंत से ली गई तो उन्होंने बताया कि कोरोना बीमारी के इस भयावह दौर में भी लॅाक डाउन के दौरान लोगों को जरूरी चीजों की आपूर्ति करने के लिए प्रशासन द्वारा बनाया गया सिस्टम सराहनीय है। महंत ने कहा कि ऐसी सरकार जिसके कलेक्टर सरल और सुलभ तथा फोन पर भी हमेशा उपलब्ध रहते हों से ही लोगों में यह विश्वास बना रहता है कि सभी सुरक्षित हैं और जल्द ही कोरोना पर काबू पा लेंगे। महंत ने ऐसे हालातों में भी लोगों का ध्यान रखने, उन्हें जरूरत के समय राशन दवा आदि समय पर किफायती दामों पर घर पहुंचाकर उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार और कलेक्टर किरण कौशल का आभार भी व्यक्त किया।

Vasudev Yadav Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned