scriptadministration | COAL CITY CHIRMIRI: जिस कोयला खदान क्षेत्र में दो साल पहले जमीन धसकी थी, बस्ती के लोग वहीं दोबारा बनाने लगे अपना आशियाना | Patrika News

COAL CITY CHIRMIRI: जिस कोयला खदान क्षेत्र में दो साल पहले जमीन धसकी थी, बस्ती के लोग वहीं दोबारा बनाने लगे अपना आशियाना

चिरमिरी-हल्दीबाड़ी में सुरक्षा की अनदेखी.

कोरीया

Published: July 24, 2022 09:27:26 pm




चिरमिरी पोड़ी। चिरमिरी के हल्दीबाड़ी सड़क दफाई में दो साल पहले धंसकी जमीन के ऊपर लोग दोबारा घर बनाने लग गए हैं। उसी स्थल पर अचानक जमीन हिलने से करीब ६०-७० मीटर लंबी दरार पड़ी थी और कई घरों को नुकसान पहुंचा था। जानकार बताते हैं कि सड़क दफाई हर मायने में असुरक्षित है। कई बार उस क्षेत्र में जमीन नीचे बैठ चुकी है। लेकिन सुरक्षा की अनदेखी कर उसी क्षेत्र में लोगों की चहलकदमी और निर्माण करना शुरू कर दिए हैं। इधर नगर निगम व एसईसीएल अनजान बना हुआ है। जबकि सड़क दफाई
फायर एरिया बस्ती है। अंडर ग्राउंड कोयला खदान में आग लगने से यह क्षेत्र आग प्रभावित क्षेत्र के नाम से प्रसिद्ध है। कई दशक पहले कुरासिया की खदान में आग लगने के बाद इस क्षेत्र के कोयला सिम में आज भी आग धधक रही है। जिससे सड़क सफाई बसी की बड़ी आबादी व कई दुकानों का भविष्य अंधकार में है। लोग जोखिम में डालकर रहने को विवश हैं। इस क्षेत्र से लोगों को विस्थापित करने की कई बार योजना बन चुकी थी। लेकिन राजनैतिक कारणों से इस दिशा में काम नहीं हो पाया है। जिससे कभी भी बड़ी दुर्घटना हो सकती है।

एसइसीएल व निगम प्रशासन मौन
एसइसीएल, नगर निगम चिरमिरी प्रशासन भी इस दिशा में पूरी तरह निष्क्रिय व मौन है। जिससे भविष्य में सड़क दफाई हल्दीबाड़ी में बड़ी दुर्घटना हो सकती है। लगभग 2 वर्षों पहले कोयला खदानों के चलते खोखले हो चुके बड़े भूभाग के बैठने से कई परिवारों को जान-माल की रक्षा के लिए अस्थाई ठिकाना व शिशु मंदिर पर शरण लेनी पड़ी थी। कुछ दिन तक सड़क दफाई के लोगों के विस्थापन को लेकर कागजों में बड़ी-बड़ी हवाई योजनाएं बनी थी। फिर बाद में सारा मामला ठंडे बस्ते पर चला गया है।

स्टेट बैंक विस्थापित, पर बस्ती का विस्थापन नहीं हुआ
दो वर्ष पूर्व जमीन धसकने से लोगों की जानमाल की हानि हुई थी। वहीं चिरमिरी ह्रदय स्थल स्थित स्टेट बैंक को भी गोदरीपारा अस्थायी रूप से ले जाया गया है। चिरमिरी का मुख्य व्यावसायिक क्षेत्र होने के कारण लोग परेशान हैं। खासकर व्यापारी वर्ग काफी परेशान हैं। इधर
प्रशासन व एसईसीएल द्वारा लगभग 150 लोगों को हटाने का नोटिस दिया गया था। लेकिन मात्र नोटिस देकर व फेंसिंग लगाकर अपना काम पूरा कर लिया गया है।

सड़क दफाई बस्ती में एक बार फिर वहां पर नोटिस भेजा जाएगा। मामले में आगे कार्रवाई की जाएगी।
घनश्याम सिंह मुख्य महाप्रबंधक चिरमिरी

इस मामले में जानकारी ली जाएगी। फिर आगे की कार्रवाई की जाएगी।
तुलसी दास मरकाम, एसडीएम चिरमिरी

घटना घटित होने के बाद वहां से लोगों को हटाया गया था। जिसमें कुछ लोग फिर वहां रहे रहे हैं। एसइसीएल प्रबंधन कह चुकी है, यह क्षेत्र असुरक्षित हैं। उन्हें नोटिस दिया जाएगा।
बिजेन्द्र सिंह, आयुक्त नगर निगम चिरमिरी

COAL CITY CHIRMIRI: जिस कोयला खदान क्षेत्र में दो साल पहले जमीन धसकी थी, बस्ती के लोग वहीं दोबारा बनाने लगे अपना आशियाना
COAL CITY CHIRMIRI: जिस कोयला खदान क्षेत्र में दो साल पहले जमीन धसकी थी, बस्ती के लोग वहीं दोबारा बनाने लगे अपना आशियाना

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Political Crisis Live Updates: नीतीश कुमार कल 2 बजे लेंगे शपथ, मंत्रिमंडल में बन सकते हैं 35 मंत्रीनीतीश ने सरकार बनाने का दावा पेश किया, कहा- हमें 164 विधायकों का समर्थनरवि शंकर प्रसाद ने नीतीश कुमार से पूछा बीजेपी के साथ क्यों आए थे? पीएम मोदी के नाम पर आपको जीत मिली, ये कैसा अपमान?पश्चिम बंगाल के बीरभूम में दर्दनाक हादसा, ऑटोरिक्शा और बस की टक्कर में 9 लोगों की मौत, पीएम मोदी ने जताया दुख'मुफ्त रेवड़ी' कल्चर मामले में सुप्रीम कोर्ट में आमने-सामने AAP और BJP, आम आदमी पार्टी ने कहा- PM मोदी ने 'दोस्तवाद' के लिए खाली किया देश का खजाना23 बार की ग्रैंड स्लैम चैंपियन सेरेना विलियम्स ने अचानक किया रिटायरमेंट का ऐलान, फैंस हुए भावुकMaharashtra Cabinet Expansion: कौन है सीएम शिंदे की नई टीम में शामिल 18 मंत्री? तीन पर लगे है गंभीर आरोपBihar New Govt: नीतीश कुमार CM, डिप्टी CM व होम मिनिस्ट्री राजद के पाले में, कांग्रेस से स्पीकर बनाए जाने की चर्चा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.