scriptBunglow missing: Forest ranger bunglow missing | फॉरेस्ट रेंजर का सरकारी बंगला हुआ गायब, बड़ा अधिकारी अपने ही विभाग को दे रहा चुनौती | Patrika News

फॉरेस्ट रेंजर का सरकारी बंगला हुआ गायब, बड़ा अधिकारी अपने ही विभाग को दे रहा चुनौती

Bunglow Missing: कोरिया वनमण्डल (Koria Forest) बैकुंठपुर के भट्ठीपारा फॉरेस्ट आवास का मामला, वन विभाग वर्ष 2009 से बंगला खाली कराने व पैनल रेंट वसूलने सिर्फ चिट्ठी लिखने में है व्यस्त, सहायक वन संरक्षक (Assistant Conservator of Forests) ने निजी बिल्डिंग का करा लिया है निर्माण

कोरीया

Published: October 29, 2021 06:44:27 pm

बैकुंठपुर. Bunglow Missing: वन परिक्षेत्राधिकारी बैकुंठपुर आवास के नाम से निर्मित एच-टाइप बंगला धरातल से अचानक गायब हो गया है। वन अमला (Forest department) पिछले करीब 12 साल से रेकॉर्ड लेकर गायब पुराने बंगले की तलाश में जुटा हुआ है।
Private building
Private building in place of Government bunglow
साथ ही एक दशक से बंगला खाली कराने, पैनल रेंट वसूलने सिर्फ चि_ी लिख रहा है। फिलहाल पुराने सरकारी बंगले की जगह सहायक वन संरक्षक ने नई प्राइवेट बिल्डिंग खड़ी कर दी है।


कोरिया वनमण्डल ने भट्ठीपारा में सरकारी जमीन पर परिक्षेत्राधिकारी उत्पादन निवास बैकुंठपुर के नाम से सरकारी बंगला (एच-टाइप) निर्माण कराया था। इसका क्षेत्रफल 12 बाई 9 कुल 108 वर्ग फीट है। जिसमें वर्ष 2000 से पहले तत्कालीन वनपरिक्षेत्राधिकारी वाईपी मिश्रा निवास करते थे।
मामले में तत्कालीन डीएफओ आरबी सिन्हा ने परिक्षेत्राधिकारी बंगला खाली होने के बाद तत्कालीन सहायक वन सरंक्षक लक्ष्मण सिंह को आवंटित कर दिया था, फिर उनका वर्ष 2008 में अचानकमार टाइगर रिजर्व तबादला हुआ था। इस मामले में वर्ष 2009 में नोटिस जारी कर 7 दिन के भीतर खाली करने नोटिस जारी हुआ था।
यह भी पढ़ें
प्राइवेट कंपनी ने जंगल में 8 किमी खोद लिया था गड्ढा, खबर छपी तो जेसीबी लेकर फरार, अब कार्रवाई करने पहुंचा वन विभाग

वहीं सहायक वन संरक्षक का बीजापुर आवापल्ली, फिर एसडीओ फॉरेस्ट पत्थलगांव (जशपुर वनमण्डल) तबादला हुआ था। इसी बीच तत्कालीन सहायक वन संरक्षक ने पुराने बंगले को तोड़कर अपनी प्राइवेट बिल्डिंग खड़ी कर दी। तत्कालीन डीएफओ ने नवंबर 2012 को बंगला खाली कराने नोटिस जारी किया था।
बावजूद सरकारी बंगले को अपने जूनियर अफसर से खाली नहीं करा पाए। मामले में विवाद बढऩे पर एसडीएम बैकुंठपुर से जांच रिपोर्ट मांगी थी। फिलहाल वन अमला पिछले एक दशक से एसडीएम, मुख्य वन संरक्षक सरगुजा को चिट्टी लिख रहा है।

तीन बार पैनल रेंट वसूलने आदेश हुआ, फिर मामला ठण्डे बस्ते में
तत्कालीन सहायक वन संरक्षक का एसडीओ फॉरेस्ट आवापल्ली बीजापुर वनमण्डल में तबादला होने के बाद 10 जनवरी 2012 को भारमुक्त कर दिया गया था। लेकिन रेंजर बंगला खाली नहीं करने के कारण पहली बार वर्ष 2009 में आदेश जारी कर अक्टूबर 2006 से 2009 तक कुल 34 माह का पैनल रेंट कुल 1 लाख 36 हजार रुपए वसूलने नोटिस जारी किया गया था।
यह भी पढ़ें
फॉरेस्ट SDO के सरकारी आवास पर ACB का छापा, मचा हड़कंप

वहीं दूसरी बार अक्टूबर 2015 में पैनल रेंट वसूलने आदेश हुआ था। अवैध तरीके से रेंजर बंगला में रहने पर जुलाई 2012 से नवंबर 2015 तक बाजार भाव (पैनल रेंट) वसूलने और तीसरी बार जून 2016 में आदेश जारी कर हर महीने तनख्वाह से 8700 रुपए वसूलने आदेश दिया गया था।

प्रिमियम किराया वसूलने लिखा गया है पत्र
सरकारी आवास में अनाधिकृत रूप से रहने के खिलाफ प्रिमियम रेंट वसूलने पत्र लिखा गया है। जिस वनमण्डल में कार्यरत हैं, उसी वनमण्डल से प्रिमियम रेंट की वसूली होनी है। काई कर्मचारी प्रिमियम रेंट देकर सरकारी आवास में रह सकता है। फिलहाल रेंट वसूलने की वनमण्डल कोरिया को कोई सूचना नहीं दी जा रही है। मामले मेें राजकुमार ने कोर्ट केस भी किया है।
जैनी ग्रेस कुजूर, एसडीओ फॉरेस्ट वनमण्डल कोरिया

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कम उम्र में ही दौलत शोहरत हासिल कर लेते हैं इन 4 राशियों के लोग, होते हैं मेहनतीबाघिन के हमले से वाइल्ड बोर ढेर, देखते रहे गए पर्यटक, देखें टाइगर के शिकार का लाइव वीडियोइन 4 राशि की लड़कियों का हर जगह रहता है दबदबा, हर किसी पर पड़ती हैं भारीआनंद महिंद्रा ने पूरा किया वादा, जुगाड़ जीप बनाने वाले शख्स को बदले में दी नई Mahindra BoleroFace Moles Astrology: चेहरे की इन जगहों पर तिल होना धनवान होने की मानी जाती है निशानीइन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशदेश में धूम मचाने आ रही हैं Maruti की ये शानदार CNG कारें, हैचबैक से लेकर SUV जैसी गाड़ियां शामिल

बड़ी खबरें

Republic Day 2022 LIVE updates: राजपथ पर दिखी संस्कृति और नारी शक्ति की झलक, 7 राफेल, 17 जगुआर और मिग-29 ने दिखाया जलवारेलवे का बड़ा फैसला: NTPC और लेवल-1 परीक्षा पर रोक, रिजल्‍ट पर पुर्नविचार के लिए कमेटी गठितRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस पर दिल्ली की किलेबंदी, जमीन से आसमान तक करीब 50 हजार सुरक्षाबल मुस्तैदUP Assembly Elections 2022 : सपा सांसद आजम खां जेल से ही करेंगे नामांकन, कोर्ट ने दी अनुमतिकोटा में रिवरफ्रंट पर लगेगी विश्व की सबसे बड़ी घंटी, वजन होगा 57 हजार किलोहाईवे के ओवरब्रिजों में सीरियल बम प्लांट, जानिए सीएम योगी के लिए लेटर में क्या लिखा, Videoकिसान मनाएंगे विश्वासघात दिवस, करेंगे पीएम मोदी का पुतला दहन, जानिए क्यों ?क्या योगी आदित्यनाथ फिर बनेंगे यूपी के मुख्यमंत्री? जानिए क्या कहती हैं ज्योतिषीयों की भविष्यवाणी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.