महिला का ऑक्सीजन लेवल था कम और हालत खराब, डॉक्टर बोले- खत्म हो गया है कोरोना जांच किट, थी पॉजिटिव

Covid-19: शासकीय अस्पताल (Government hospital) के सामने गंभीर हालत में पहुंची महिला मरीज (Patient) की हालत थी काफी खराब, कर दिया गया रेफर, जांच हुई तो पॉजिटिव (Positive) आई रिपोर्ट

By: rampravesh vishwakarma

Published: 22 Apr 2021, 07:58 PM IST

मनेंद्रगढ़. कोरिया जिले के मनेंद्रगढ़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कोरोना जांच किट (Corona test kit) खत्म होने से गंभीर मरीजों को परेशानी हो रही है। अस्पताल के सामने गुरुवार को कई मरीज इधर-उधर भटकते नजर आए। एक महिला मरीज का ऑक्सीजन लेवल व पल्स काफी लो था।

डॉक्टरों ने जब कोरोना किट खत्म होने की बात कही और रेफर कर दिया तो उसे बैकुंठपुर रेफर किया गय। जब उसकी कोरोना जांच की गई तो वह पॉजिटिव (Corona positive) पाई गई। फिलहाल उसका इलाज जारी है।

Read More: कोरोना ने शहर के 2 और लोगों की ली जान, एक की अंबिकापुर तो दूसरे की रायपुर में मौत, मिले 79 नए पॉजिटिव


मनेंद्रगढ़ में मरीजों को इलाज मुहैय्या कराने वाला एकमात्र सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में स्वास्थ्य सेवा वेंटीलेटर पर चल रहा है। हालात यह है कि कोरोना संक्रमण काल में एकमात्र शासकीय अस्पताल में एंटीजन जांच किट खत्म हो गई। जिसकी वजह से कई गंभीर रूप से पीडि़त मरीजों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा।

Covid-19
IMAGE CREDIT: Corona in Koria

गुरुवार को वार्ड क्रमांक-10 निवासी युवती का ऑक्सीजन व पल्स नीचे आ गया था। निजी चिकित्सकों ने उन्हें कोरोना जांच के बाद उपचार करने की बात कही। जब सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में मरीज के परिजन लेकर गए तो अस्पताल में कोरोना जांच किट नहीं होने का हवाला देते हुए बैकुंठपुर रेफर कर दिया।

इसके बाद तत्काल कुछ किट सेंट्रल अस्पताल में गंभीर रूप से पीडि़त मरीजों के लिए दिए गए थे। जहां गंभीर रूप से पीडि़त महिला का कोरोना जांच हुई। जहां जांच की रिपोर्ट पॉजिटिव आई और सेंट्रल हॉस्पिटल में युवती को भर्ती कराया गया। महिला को कोविड-19 बैकुंठपुर में रेफर किया गया है।

Read More: टीआई समेत सरगुजा में आज मिले 26 कोरोना पॉजिटिव, संक्रमितों का आंकड़ा पहुंचा 725, कोरिया में कोरोना ने बनाया रिकॉर्ड

Corona patient
IMAGE CREDIT: Corona latest news

दर-दर भटक रहे गंभीर मरीज
कई गंभीर मरीज पिछले 2 दिन से कोरोना संक्रमित होने की वजह से दर-दर भटकने को मजबूर हैं, उनकी सुध लेने वाला कोई नहीं है। सेंट्रल अस्पताल में एकमात्र किट से किसी तरह उक्त गंभीर महिला की जांच हुई। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सक व कर्मचारी मरीजों को हर सहयोग करने की कोशिश जारी है।

लेकिन सामग्री की व्यवस्था नहीं होने की वजह से वह आकस्मिक समय में अपने हाथ खड़े कर ले रहे हैं। इसका खामियाजा गंभीर रूप से पीडि़त मरीजों को भुगतना पड़ रहा है। मनेंद्रगढ़ में 2 दिन से गंभीर रूप से कोरोना जांच नहीं होने की वजह से परेशानी होने लगी है।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned