एसआई की दबंगई! पिता को पिटता देख बचाने आई बेटी को भी डंडे से पीटा, विधायक हुईं नाराज, एसपी से कहा- लें कड़ा एक्शन

Crime news: पानी भरने के मामूली विवाद पर पहुंचे चौकी प्रभारी एसआई की करतूत, कोतवाली में पीडि़तों ने की लिखित शिकायत, विधायक ने जताई कड़ी नाराजगी

By: rampravesh vishwakarma

Published: 05 May 2020, 01:02 PM IST

पोड़ी बचरा. कोरिया जिले के पुलिस सहायता केंद्र पोड़ी के चौकी प्रभारी एसआई ने रविवार की शाम एक बुजुर्ग ग्रामीण व उसकी बेटी की डंडे से पिटाई (SI beaten father-daughter) कर दी। दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पीडि़तों ने एसआई के खिलाफ मामले की शिकायत कोतवाली में दर्ज करा कर कार्रवाई की मांग की है।

वहीं पिता-पुत्री की पिटाई की खबर जैसे ही क्षेत्रीय विधायक अंबिका सिंहदेव को पता चली, उन्होंने कड़ी नाराजगी जताई। उन्होंने एसपी को चौकी प्रभारी के खिलाफ कार्रवाई करने कहा है। (Crime news)


कोरिया जिले के पोड़ी चौकी अंतर्गत ग्राम तोलगा में पानी भरने को लेकर रविवार को विवाद हो गया था। शिकायत मिलने पर देर शाम करीब 7 बजे चौकी प्रभारी एसआई संदीप सिंह गांव में पहुंचे।

यहां उन्होंने 65 वर्षीय ग्रामीण बंशलाल पिता भज्जू की पिटाई शुरु कर दी। यह देख उसकी बेटी बीच-बचाव करने पहुंची तो चौकी प्रभारी ने उसकी भी डंडे से पिटाई कर दी। मारपीट में गंभीर रूप से घायल बंशलाल को चौकी प्रभारी खुद अपनी कार में बैठाकर स्थानीय अस्पताल ले गया।

यहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे जिला अस्पताल बैकुंठपुर रेफर कर दिया गया। यहां बेटी का भी इलाज चला। इलाज के बाद बंशलाल ने चौकी प्रभारी की लिखित शिकायत कोतवाली में दर्ज कराकर कार्रवाई की मांग की है।


विधायक ने जताई कड़ी नाराजगी
पिता-पुत्री की पिटाई (Police beaten) की जानकारी जब क्षेत्रीय विधायक अंबिका सिंहदेव को हुई तो उन्होंने कड़ी नाराजगी जताई। उन्होंने कोरिया एसपी को जांच कर चौकी प्रभारी के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने कहा।

बताया जा रहा है कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। बताया जा रहा है कि चौकी प्रभारी द्वारा कई लोगों से मारपीट व अभद्रता की जा चुकी है। इसे लेकर ग्रामीणों में आक्रोश भी है।

कोरिया जिले में क्राइम की खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- Crime in Koria

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned