प्रसिद्ध कराटे मास्टर कोरोना से हार गए जंग, अस्पताल में बना लाखों का बिल, घर पहुंचते ही मौत

Karate Master died: एक महीने पूर्व कोरोना संक्रमित (Corona positive) होने के बाद रायपुर के एक निजी अस्पताल (Private hospital) में कराया गया था भर्ती, 2 दिन पूर्व वहां के डॉक्टरों (Doctors) ने दे दिया था जवाब

By: rampravesh vishwakarma

Updated: 10 Jun 2021, 01:53 PM IST

मनेंद्रगढ़. प्रसिद्ध कराटे मास्टर (Karate Master) व नपा कर्मचारी मो. याकूब खान एक महीने बाद कोरोना से जंग हार गए। उनका कोरोना संक्रमित हो गए थे तथा उनका रायपुर के रामकृष्ण अस्पताल (RamKrishna Care hospital) में इलाज चल रहा था। इस दौरान शहरवासियों ने उनके लिए दुआएं मांगी थी और हर कोई यथा संभव आर्थिक सहयोग करने सामने भी आया था।


गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण होने के बाद कराटे मास्टर व नगरपालिका कर्मचारी मो. आकूब खान को केंद्रीय चिकित्सालय आमाखेरवा में भर्ती कराया गया था। जहां हालत में सुधार नहीं होने की वजह से रामकृष्ण रायपुर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। चिकित्सकों की गहन निगरानी में सेहत में उतार-चढ़ाव होता रहता था।

Read More: कोरोना पॉजिटिव डॉक्टर समेत 4 की मौत, डॉक्टर ने जोगी कांग्रेस से लड़ा था विस चुनाव, अभी थे भाजपा सांसद के प्रतिनिधि

डॉक्टरों ने उनके लंग्स में इंफेक्शन, श्वांस नली व ऑक्सीजन की लगातार कमी की वजह से मंगलवार को जवाब दे दिया था। कई घंटों तक भारी भरकम लाखों की बकाया बिल की राशि के लिए परिजन काफी मुश्किल में थे। अस्पताल प्रबंधन द्वारा लगातार बकाया राशि भुगतान की बात कही जा रही थी।


बिल कराया गया माफ
लाखों का बिल बकाया होने की जानकारी जैसे ही नगर पालिका अध्यक्ष प्रभा पटेल को मिली, उन्होंने तत्काल बकाया बिल की राशि को पूरी तरह माफ कराने स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से चर्चा की। स्वास्थ्य मंत्री के निर्देश पर निजी सचिव शलभ वर्मा के प्रयास से उनका बकाया राशि में कटौती कर दी गई।

Read More: कोरोना से जिंदगी की जंग हार गए डॉक्टर, पिछले महीने मां की भी संक्रमण से हुई थी मौत


घर पहुंचते ही तोड़ा दम
बुधवार को रात्रि 2 बजे का घर पहुंचे, वैसे ही उनकी मौत (Died in house) हो गई। उनके पीछे पत्नी, 2 पुत्र व एक पुत्री हैं। उनकी मौत की खबर से शहरवासी स्तब्ध हैं। कराटे मास्टर मोहम्मद याकूब के कई शिष्य देश-विदेश में मनेंद्रगढ़ का नाम रौशन कर चुके हैं। मोहरपारा इदगाह कब्रिस्तान में गमगीन माहौल में सुपुर्द ए खाक किया गया।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned