दोस्तों ने फुटबॉल को मारा किक तो वाटरफॉल में जा गिरा, निकालने गए युवक की डूबकर मौत

Drowned in waterfall: गौरघाट जलप्रपात में दोस्तों के साथ पिकनिक (Picnic) मनाने गया युवक हुआ हादसे का शिकार, दो घंटे तक चला रेस्क्यू (Resque) पर नहीं मिली लाश, जलप्रपात (Waterfall) में लोगों को जाने से रोकने लगी थी कार्यपालिक मजिस्ट्रेट की ड्यूटी

By: rampravesh vishwakarma

Updated: 03 Jan 2021, 09:56 PM IST

बैकुंठपुर/सोनहत. गौरघाट जलप्रपात पिकनिक स्पॉट (Picnic spot) पर रविवार को नदी की रेत में फुटबाल खेलते समय एक युवक के डूबने से मौत (Death to drowned) हो गई। जबकि गौरघाट सहित जिले के 4 पर्यटन स्थल (Tourist spot) पर कार्यपालिक दण्डाधिकारी की टीम निगरानी करने तैनात थी। इसके बावजूद यह हादसा हो गया।


कोरिया जिले के ग्राम पटना से अभय पाण्डेय पिता अशोक पाण्डेय (22) सहित 8 युवक पिकनिक मनाने गौरघाट गए थे। इस दौरान जलप्रपात के नीचे उतरकर सभी युवक नदी के बीच में रेतीली जगह पर फुटबॉल खेल रहे थे। खेलते हुए एक युवक ने फुटबॉल को जोर से किक मारी (Kicked football) और फुटबाल सीधे पानी में चला गया।

इसके बाद अभय फुटबाल को निकालने पानी में घुसा और गहरे पानी में डूब (Drowned) गया। घटना रविवार दोपहर करीब 12 बजे की है। मामले की सूचना मिलने के बाद कमांडेंट एसएन बोरवणकर, सब इंस्पेक्टर दीपेंद्र सिंह के नेतृत्व में नगर सेना की इमरजेंसी सर्विसेस की टीम पहुंची। करीब 2 घंटे तक रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया, लेकिन युवक के शव का पता नहीं चल पाया है।

दोस्तों ने फुटबॉल को मारा किक तो वाटरफॉल में जा गिरा, निकालने गए युवक की डूबकर मौत

परिवार का इकलौता पुत्र था मृतक
मृतक अभय पाण्डेय अपने परिवार का इकलौता पुत्र था। गौरघाट जलप्रपात (Gaurghat waterfall) में पिकनिक मनाते समय डूबने से मौत की सूचना मिलने के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। साथ ही परिजन व कुछ ग्रामीण गौरघाट पहुंचे। हादसे के बाद पुलिस व प्रशासन के आला अफसर भी मौके पर पहुंचे।

ऐसी चर्चा है कि रविवार की छुट्टी होने के कारण सोनहत की पूरी प्रशासनिक टीम गौर घाट पिकनिक मनाने पहुंची थी। चर्चा है कि प्रशासनिक टीम जलप्रपात के ऊपर थी और पटना के युवक जलप्रपात के नीचे फुटबॉल खेल रहे थे। इसी बीच दोपहर में हादसा हो गया।


चार पर्यटन स्थल पर तैनात थी निगरानी टीम
कोरिया में नव वर्ष सेलिब्रेशन की निगरानी करने कार्यपालिक दण्डाधिकारी की टीम अलग-अलग ४ प्रमुख पर्यटन स्थल पर ३ जनवरी तक शांति व्यवस्था बनाने तैनात थी। झुमका बोट क्लब, वेस्ट वियर एवं ऑक्सीजोन पर्यटन स्थल पर तहसीलदार ऋचा सिंह, सिटी कोतवाली प्रभारी केके शुक्ला एवं आबकारी उप निरीक्षक विजिता रानू भगत की ड्यूटी लगी थी।

दोस्तों ने फुटबॉल को मारा किक तो वाटरफॉल में जा गिरा, निकालने गए युवक की डूबकर मौत

वहीं अमृतधारा जलप्रपात पर्यटन स्थल पर नायब तहसीलदार मनेन्द्रगढ़ विप्लव श्रीवास्तव, पुलिस चौकी नागपुर प्रभारी सुबल सिंह एवं आबकारी उपनिरीक्षक वेद प्रकाश इन्दुआ, गौरघाट एवं बालम पहाड़ पर्यटन स्थल पर नायब तहसीलदार विभोर यादव, थाना सोनहत प्रभारी जेआर बंजारे एवं आबकारी उपनिरीक्षक विजिता रानू भगत की ड्यूटी लगी थी।

वहीं जटाशंकर गुफा पर्यटन स्थल पर नायब तहसीलदार केल्हारी राममिलन शर्मा, थाना केल्हारी प्रभारी जनक कुर्रे एवं आबकारी उपनिरीक्षक वेद प्रकाश इन्दुआ की टीम निगरानी करने तैनात थी।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned