scripteducation | इंग्लिश मीडियम स्कूल: हिंदी टीचर्स के भरोसे तालिम, एबीसीडी...नहीं, सिर्फ ककहरा... पढ़ाई? | Patrika News

इंग्लिश मीडियम स्कूल: हिंदी टीचर्स के भरोसे तालिम, एबीसीडी...नहीं, सिर्फ ककहरा... पढ़ाई?

वर्ष २०१७-१९ में कोरिया में कुल १० इंग्लिश मीडियम स्कूल खोले गए थे।

कोरीया

Published: May 20, 2022 09:12:31 pm

कोरिया में सोनहत, भरतपुर व मनेंद्रगढ़ ब्लॉक के छह स्कूल बंद हो गए...............

- बैकुंठपुर ब्लॉक में स्वामी आत्मानंद में मर्ज और सिर्फ खडग़वां ब्लॉक में संचालित।

बैकुंठपुर/खडग़वां। कोरिया में ग्रामीण अंचल के गरीब बच्चों को अच्छी शिक्षा देने खोले गए ८ प्राइमरी-मिडिल इंग्लिश मीडियम स्कूल में ताला लटका हुआ है। इंग्लिश स्कूल खुलने के बाद करीब चार साल से हिन्दी टीचर्स के भरोसे जैसे-तैसे पढ़ाई चल रही थी। इंग्लिश मीडियम टीचर्स नहीं मिलने के कारण सोनहत, भरतपुर व मनेंद्रगढ़ के बच्चों को अन्यत्र स्थानांतरित कर दिया गया है।
जानकारी के अनुसार वर्ष २०१७-१९ में कोरिया में कुल १० इंग्लिश मीडियम स्कूल खोले गए थे। इंग्लिश स्कूल खुलने के बाद जिलेभर में इंग्लिश टीचर खोजे गए, लेकिन इंग्लिश मीडियम के बच्चों को पढ़ाई योग्य टीचर नहीं मिल पाए। मामले में हिन्दी टीचर्स के भरोसे जैसे-तैसे पढ़ाई चल रही थी। छत्तीसगढ़ पाठ्य पुस्तक निगम से बकायदा इंग्लिश मीडियम के बुक्स मिलता था। वर्तमान में सिर्फ खडग़वां ब्लॉक के ब्वायज प्राइमरी-मिडिल इंग्लिश मीडियम स्कूल संचालित हैं। बैकुंठपुर ब्लॉक के दो स्कूल स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल में मर्ज और मनेंद्रगढ़ स्कूल के बच्चों को आत्मानंद स्कूल में दाखिला कराया गया है। वहीं भरतपुर व सोनहत ब्लॉक के बच्चों को अन्यत्र स्थानांतरित कर दिया गया है।

ये इंग्लिश स्कूल बंद/मर्ज हुए
- शासकीय अंग्रेजी माध्यम प्राइमरी व मिडिल स्कूल जनकपुर।
- शासकीय अंग्रेजी माध्यम प्राइमरी व मिडिल स्कूल पुरानीबस्ती मनेंद्रगढ़।
- शासकीय अंग्रेजी माध्यम प्राइमरी व मिडिल स्कूल सोनहत।
- शासकीय अंग्रेजी माध्यम प्राइमरी व मिडिल स्कूल महलपारा बैकुंठपुर(स्वामी आत्मानंद में मर्ज)।

ये स्कूल संचालित है
- शासकीय अंग्रेजी माध्यम मिडिल स्कूल खडग़वां।
-शासकीय बालक प्राइमरी अंग्रेजी माध्यम स्कूल खडग़वां।

सीबीएसई बोर्ड की तर्ज पर संचालन की तैयारी थी
जानकारी के अनुसार वर्ष २०१७-१८ में हर ब्लॉक में दो-दो अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोलने के बाद सीबीएसई बोर्ड की तर्ज पर संचालन की तैयारी थी। लेकिन इंग्लिश टीचर्स सहित अन्य स्टाफ व इंफ्रास्ट्रक्चर के अभाव में सीबीएसई से मान्यता नहीं मिली थी। जिससे सीजीबोर्ड के पाठ्यक्रम पढ़ाए गए। वर्तमान में खड़वां ब्लॉक मुख्यालय में प्राइमरी व मिडिल स्कूल इंग्लिश मीडियम के नाम से संचालित हैं। जिसमें करीब २३५ स्टूडेंट्स अध्ययनरत हैं। वहीं दोनों स्कूल में ३ व ५ शिक्षक कार्यरत हैं।

अंग्रेजी स्कूलों में अंग्रेजी पढऩे वाले शिक्षकों की भर्ती अलग से नहीं हुई है। जो शिक्षक पहले से पदस्थ हैं, वही पढ़ रहे हैं। कुछ शिक्षकों को अटैचमेंट किया गया था। फिर शासन ने अटैचमेंट खत्म करने पर वापस हो गए है। दोनों स्कूलों में शिक्षकों की संख्या पूरी है।
डीपी मिश्रा, विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी खडग़वां

,,
इंग्लिश मीडियम स्कूल: हिंदी टीचर्स के भरोसे तालिम, एबीसीडी...नहीं, सिर्फ ककहरा... पढ़ाई?,इंग्लिश मीडियम स्कूल: हिंदी टीचर्स के भरोसे तालिम, एबीसीडी...नहीं, सिर्फ ककहरा... पढ़ाई?,इंग्लिश मीडियम स्कूल: हिंदी टीचर्स के भरोसे तालिम, एबीसीडी...नहीं, सिर्फ ककहरा... पढ़ाई?

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

राजस्थान में इंटरनेट कर्फ्यू खत्म, 12 जिलों में नेट चालू, पांच जिलों में सुबह खत्म होगी नेटबंदीनूपुर शर्मा पर डबल बेंच की टिप्पणियों को वापस लिया जाए, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के समक्ष दाखिल की गई Letter PettitionENG vs IND Edgbaston Test Day 1 Live: ऋषभ पंत के शतक की बदौलत भारतीय टीम मजबूत स्थिति मेंMaharashtra Politics: महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने देवेंद्र फडणवीस के डिप्टी सीएम बनने की बताई असली वजह, कही यह बातजंगल में सर्चिंग कर रहे जवानों पर नक्सलियों ने की फायरिंगपंचायत चुनाव: दो पुलिस थानों ने की कार्रवाई, प्रत्याशी का चुनाव चिन्ह छाता तो उसने ट्राली भर छाता बंटवाने भेजे, पुलिस ने किए जब्तMonsoon/ शहर में साढ़े आठ इंच बारिश से सडक़ों पर सैलाब जैसा नजारा, जन जीवन प्रभावित2 जुलाई को छ.ग. बंद: उदयपुर की घटना का असर छत्तीसगढ़ में, कई दलों ने खोला मोर्चा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.