scriptHightech Nursery: 12 lakh plant prepares in CG's nursery every year | छत्तीसगढ़ के इस हाइटेक नर्सरी में हर साल तैयार होते हैं 12 लाख पौधे, ये खासियत भी | Patrika News

छत्तीसगढ़ के इस हाइटेक नर्सरी में हर साल तैयार होते हैं 12 लाख पौधे, ये खासियत भी

Hightech Nursery: हर साल लाखोंं की संख्या में तैयार पौधों (Plants) की दूसरे जिले में भी की जाती है आपूर्ति, वर्ष 2003 से संचालित है केंद्रीय रोपणी, मिनी सिडलिंग प्लांट (Mini Seedling Plant) से एक साथ निकलते हैं 60 हजार पौधे

कोरीया

Published: December 27, 2021 05:46:55 pm

बैकुंठपुर. Hightech Nursery: कोरिया जिले के वनपरिक्षेत्र बैकुंठपुर क्षेत्र अंतर्गत ग्राम आनंदपुर में निर्मित हाइटेक केंद्रीय रोपणी में हर साल 12 लाख पौधे तैयार कर गांव-गांव सहित दूसरे जिले तक आपूर्ति होती है। नर्सरी में सबसे खास बात मांग के हिसाब से नीलगिरी के क्लोनल पौधे तैयार होते हैं। परिसर में मिनी सिडलिंग प्लांट बनाकर बेड सिस्टम से जर्मीनेशन से 50-60 हजार पौधे प्रोडक्शन करने की क्षमता है। कोरिया वनमण्डल में वर्ष 2003 में हाइटेक आनंदपुर केंद्रीय रोपणी बना गया है। जो 8-10 हेक्टेयर एरिया में फैला हुआ है। यह जिले का सबसे अधिक पौधे प्रोडक्शन करने वाली नर्सरी है। मिनी सिडलिंग प्लांट से एक साथ 60 हजार पौधे तैयार कर परिसर में अलग-अलग क्यारियों में रखते हैं। फिर नियमित रूप से पानी सिंचाई, खाद सहित अन्य पोषक तत्व देते हैं। नर्सरी में नीलगिरी, हर्रा, बहेरा, बीजा, बांस के पौधे तैयार करते हैं। वहीं नर्सरी में तैयार पौधों को कोरिया, मनेंद्रगढ़ वनमण्डल सहित दूसरे जिले में आपूर्ति करते हैं।
Hightech Nursery in Anandpur
Hightech Nursery

ऐसे तैयार करते हैं ग्रीन हाउस में पौधे
पौधे उगाने के लिए बीज को ग्रीन हाउस के मिस चेंबर में डालते हैं। फिर अंकुरित होने के बाद 45 दिन तक ग्रामीण हाउस में रखते हैं। उसके बाद क्यारियों में प्लास्टिक में रखकर देखभाल करते हैं। नर्सरी के कर्मचारी क्यारियों में सिंचाई कर पौधों को बड़ा करते हैं और मांग के हिसाब से सप्लाई करते हैं।
केंद्रीय रोपणी आनंदपुर में दो-तीन बार पौधे तैयार करते हैं। खासकर नीलगिरी व बांस के बीच व डण्ठल से क्लोनल तैयार होता है। वहीं जनवरी से बीज अंकुरित कर पौधे तैयार करते हैं। फिलहाल नीलगिरी की मांग कम है, इसलिए क्लोनल कम बनाते हैं।
Plants nursery
IMAGE CREDIT: Hightech nursery in Koria district
दहिमन पौधे की डिमांड अधिक, संभाग से बाहर सप्लाई
जानकारी के अनुसार नर्सरी में दहिमन के पौधों की अधिक डिमांड है। इसलिए दहिमन के पौधे तैयार कर कोरिया से बाहर सरगुजा सहित दूसरे संभाग में सप्लाई होती है। नर्सरी में सिंचाई करने स्थानीय नाले में बांध बनाया गया है। जिससे 12 महीने पर्याप्त मात्रा में पानी मिलता है। वहीं नर्सरी की सुरक्षा में 24 घंटे कर्मचारी तैनात रहते हैं।
यह भी पढ़ें
दहीमन : इस पेड़ की पत्तियां खाइए ठीक हो जाएगा कैंसर, पत्तियों पर कुछ भी लिखें... उभरकर आ जाता है सामने


हाईटेक है आनंदपुर नर्सरी
आंनदपुर नर्सरी हाइटेक है, जिसमें बड़ी संख्या में पौधे तैयार करते हैं। पिछले साल 10 लाख पौधे तैयार किए गए थे। इस साल 12 लाख पौधे तैयार करेंगे। नर्सरी में साल में दो से तीन बार पौधे उगाए जाते हैं। वहीं क्लोनल के लिए डण्ठल व बीज से पौधे तैयार करते हैं।
अखिलेश मिश्रा, वनपरिक्षेत्राधिकारी बैकुंठपुर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहfoods For Immunity: इम्युनिटी को बूस्ट करने के लिए डाइट में शामिल करें इन फूड्स कोRation Card से राशन नहीं लेने वालों पर भी होगी कार्यवाई, दूसरे के कार्ड का इस्तेमाल करने पर हो सकती है सज़ाराजस्थान में कोरोना को लेकर नई गाइडलाइन जारी,विवाह समारोह में 100 लोगों के शामिल होने की अनुमति
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.