शिक्षा विभाग ने 18 साल बाद लिया ये बड़ा फैसला, अब ऐसे होगी टाइपिंग की परीक्षा

Typing Exam: लोक शिक्षण आयुक्त के आदेश पर लिया गया निर्णय, जीएडी रायपुर ने सीधी भर्ती के लिए शैक्षणिक अर्हता में किया है संशोधन, सरकारी व निजी कॉलेज (Government and Private College), इंजीनियरिंग व पॉलिटेक्निक कॉलेज, आईटीआई, हाईस्कूल-हायर सेकण्डरी विद्यालय, प्राइवेट-अनुदान विद्यालय, एमआईएस सेंटर्स (MIS Centers) को बनाया जाएगा परीक्षा केंद्र

By: rampravesh vishwakarma

Published: 06 Oct 2021, 10:56 PM IST

बैकुंठपुर. Typing Exam: शीघ्रलेखन-मुद्रलेखन परीक्षा परिषद रायपुर ने खिटिर-खिटिर आवाज करने वाली पुरानी टाइपिंग मशीन को किनारे कर कम्प्यूटर से दक्षता परीक्षा लेने का निर्णय लिया है। शीघ्रलेखन-मुद्रलेखन परीक्षा परिषद रायपुर द्वारा वर्ष 2003 से हिन्दी, अंग्रेजी मुद्रलेखन, शीघ्रलेखन की परीक्षाएं ली जा रही थीं।

ये परीक्षा साल में 2 बार टाइपराइटर (पुरानी टाइपिंग मशीन) से ली जाती थी। मामले में आयुक्त लोक शिक्षण डॉ. कमलप्रीत सिंह के आदेश पर 18 साल बाद शिक्षा विभाग द्वारा केवल शीघ्रलेखन लिप्यांतरित आलेख को कम्प्यूटर पर मुद्रित कराने की सहमति दी है।


शीघ्रलेखन के लिप्यांतरित अवतरण (आलेख) को मैन्युअल मुद्रलेखन के बजाय कम्प्यूटर पर करने की अनुमति दी गई है। परिषद ने कंप्यूटर से परीक्षा लेने का निर्णय लिया है, जिससे मुद्रलेखन की स्पीड टेस्ट परीक्षा की शासन स्वीकृति मिलने के बाद कम्प्यूटर से हिन्दी-अंग्रेजी मुद्रलेखन और हिन्दी-अंग्रेजी शीघ्रलेखन की परीक्षा ली जाएगी।

Read More: पोस्ट ऑफिस में है ये स्कीम, हर दिन 95 रुपए जमा करने पर रिटर्न मिलेगा 14 लाख

सरकारी व निजी कॉलेज, इंजीनियरिंग व पॉलिटेक्निक कॉलेज, आईटीआई, हाईस्कूल-हायर सेकण्डरी विद्यालय, प्राइवेट-अनुदान विद्यालय, एमआईएस सेंटर्स को परीक्षा केंद्र बनाया जाएगा।

ऐसे प्राइवेट संस्थान, जहां अधिकतम संख्या में कम्प्यूटर की व्यवस्था उपलब्ध है, साथ ही शासकीय या प्राइवेट संस्थान में कम्प्यूटर, प्रिंटर और यूपीएस की सुविधा होने पर एग्जाम सेंटर बना सकते हैं।

Read More: KBC में अमिताभ बच्चन ने महिला कंटेस्टेंट से पूछा छत्तीसगढ़ से जुड़ा ये सवाल, हमें भी पता होना चाहिए जवाब


सीधी भर्ती के शैक्षणिक योग्यता संशोधित
जानकारी के अनुसार जीएडी रायपुर ने सीधी भर्ती के लिए शैक्षणिक अर्हता में संशोधन अनुसार शीघ्रलेखन, डाटा एंट्री ऑपरेटर, स्टेनो टायपिस्ट एवं सहायक ग्रेड-3 के लिए पुननिर्धारण किया गया है। प्रदेश स्तर पर विभिन्न विभागों द्वारा सीधी भर्ती के पदों के लिए कम्प्यूटर प्रमाण-पत्र जरूरी है।

कम्प्यूटर दक्षता स्पीड टेस्ट प्रमाण-पत्र किसी भी संस्था से नहीं दिया जाता है। ऐसी स्थिति में भविष्य में मैन्युअल पद्धति के स्थान पर कम्प्यूटर दक्षता स्पीड टेस्ट 5000, 8000 तथा 10000 की गति से की-इंम्प्रेशन-डिप्रेशन परीक्षा होगी।


कंप्यूटर से दक्षता परीक्षा लेने का निर्णय
पुरानी टाइपिंग मशीन के बजाय अब कम्प्यूटर से दक्षता परीक्षा लेने का निर्णय लिया है।
आकाश गुप्ता, अनुदेशक टंकण कला केंद्र बैकुंठपुर

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned