रेलवे वैगन के पहिए में फंसी महिला 50 मीटर तक घिसटती रही, जब ट्रेन रुकी तो 3 हिस्सों में कट चुका था शरीर

रेलवे वैगन के पहिए में फंसी महिला 50 मीटर तक घिसटती रही, जब ट्रेन रुकी तो 3 हिस्सों में कट चुका था शरीर

rampravesh vishwakarma | Publish: Sep, 02 2018 05:46:40 PM (IST) Koria, Chhattisgarh, India

महिला आधे घण्टे तक बचाने की लगाती रही गुहार, शहर की अन्य महिलाओं के साथ रेलवे साइडिंग में कोयला चोरी करने पहुंची थी महिला

चिरमिरी. चिरमिरी के डोमनहिल क्षेत्र में एसईसीएल की रेलवे कोयला साइडिंग में रविवार सुबह कोयला चोरी करने गई महिला मालगाड़ी के चपेट में आ गई। मालगाड़ी के पहिए में फंसकर वह करीब 50 मीटर घिसटती रही। जब दूर काम कर रहे श्रमिक ने मालगाड़ी रुकवाई तो महिला का शरीर 3 हिस्से में कट चुका था। उसे अस्पताल ले जाया जा रहा था। इसी दौरान उसकी रास्ते में मौत हो गई।


कोरिया जिले के चिरमिरी वार्ड क्रमांक 35 डोमनहिल 20 नंबर कॉलोनी निवासी शाहजहां पति छोटे कुरैशी (55) कोयला चोरी करने डोमनहिल क्षेत्र नार्थ चिरमिरी कालरी डोमनहिल समूह के नाम से संचालित एसईसीएल की रेलवे साइडिंग गई थी।

इस दौरान वैगन के आगे बढऩे के कारण रविवार सुबह करीब 5 बजे मालगाड़ी के चक्के में फंस गई और उसका शरीर 3 हिस्से में कट गया। महिला को तत्काल अस्पताल ले जाया जा रहा था, इसी दौरान उसने एसईसीएल की एम्बुलेंस में दम तोड़ दिया। एसईसीएल एवं मृतिका के परिजनों की मदद से रीजनल अस्पताल कुरासिया की मरच्यूरी में शव को रखा गया है।


खुद को बचाने लगाती रही आवाज
रेलवे की कोयला लोड वैगन की चपेट में आने के बाद महिला 50 मीटर तक घिसटती रही। वह काफी देर तक खुद को बचाने आवाज लगा रही थी। इस दौरान उसका शरीर 3 हिस्सों में बंट गया था। दुर्घटना के बाद उसके साथ रहीं अन्य महिलाएं और बच्चे वहां से फरार हो गए। घटनास्थल से थोड़ी ही दूरी पर एसईसीएल की रात्रि पाली के श्रमिक की ड्यूटी लगी थी।

इसी बीच एक श्रमिक ने महिला की आवाज सुनकर तत्काल मालगाड़ी के ड्राइवर तक पहुंचा और किसी के फंसने की जानकारी दी। इस दौरान मृतका के शव को अलग अलग हिस्से से उठाया गया और उच्च अधिकारियों को मामले की जानकारी दी गई।


महिला की हो चुकी थी मौत
नाइट ड्यूटी के कारण मैं हॉस्पिटल में उपस्थित था। मृतका ने अस्पताल परिसर आने से पहले की दम तोड़ दिया था। उसमें कुछ करने लायक नहीं था। मामला एक्सीडेंटल होने के कारण इसकी जानकारी थाना चिरमिरी को दी गई है।
डॉ आशुतोष सिंह, रीजनल अस्पताल कुरासिया


ड्यूटी जाते समय देखा तो चिल्ला रही थीं महिलाएं
मेरी ड्यूटी सुबह 9 बजे से लगती है, लेकिन आज अचानक साइडिंग से होकर अपने घर जा रहा था। तभी किसी की आवाज सुनाई दी और कुछ महिलाएं घटना स्थल से भाग रही थी। एक महिला की वैगन के नीचे से आवाज लगा रही थी। जिससे दौड़ कर मालगाड़ी चालक को रोका और किसी के फंसने की जानकारी दी।
पंचराम नाथ, साइडिंग इंचार्ज डोमनहिल सीएचपी

Ad Block is Banned