8 लाख की सागौन लकड़ी समेत 8 तस्कर गिरफ्तार, वन समिति के अध्यक्ष को ट्रैक्टर से कुचलने की कोशिश

Wood smuggling: वन विभाग (Forest Department) कर रहा टै्रक्टर को राजसात करने की तैयारी, सागौन प्लांटेशन (Teak Plantation) से काटे गए थे पेड़

By: rampravesh vishwakarma

Published: 07 Sep 2021, 09:40 PM IST

बैकुंठपुर. वनपरिक्षेत्र बैकुंठपुर की टीम ने जगदीशपुर सागौन प्लांटेशन से 8 लाख रुपए का पेड़ काटकर तस्करी करने वाले 8 आरोपी को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के पास से सागौन की लकडिय़ां व टै्रक्टर को बरामद किया गया है। ट्रैक्टर को राजसात करने की तैयारी की जा रही है।

इधर वन विकास समिति के अध्यक्ष ने आरोप लगाया है कि आरोपियों ने भागने के दौरान ट्रैक्टर से उसे कुचलने की भी कोशिश की। गनीमत रही कि वह बाइक से कूद गया। ट्रैक्टर की टक्कर से उसकी बाइक क्षतिग्रस्त हो गई।


रविवार को वन विभाग को सूचना मिली कि बैकुंठपुर वनपरिक्षेत्र के जगदीशपुर सागौन प्लांटेशन से 8-10 पेड़ को काटा गया है। इस दौरान ग्रामीणों के विरोध के बाद सागौन लकडिय़ों को एक स्थान पर छोड़कर आरोपी फरार हो गए हैं। मामले में वन परिक्षेत्राधिकारी अखिलेश मिश्रा ने वनरक्षक छत्रपाल के नेतृत्व में टीम भेजी।

मौके पर टीम पहुंची, लेकिन आरोपी ट्रैक्टर लेकर भाग खड़ा निकले थे। फॉरेस्ट टीम इधर-उधर आरोपियों की तलाश करती रही। इसी बीच पता चला कि एक आरोपी को ग्राम रनई के पास देखा गया है। उसके पास ट्रैक्टर नहीं है, जिसके बाद फॉरेस्ट टीम ने रनई से आरोपी को हिरासत में लिया।

Read More: गश्त पर निकली पुलिस ने आधी रात पकड़ा 106 नग चिरान से भरा पिकअप, 3 आरोपी गिरफ्तार

आरोपी से पूछताछ कर ट्रैक्टर को बरामद किया गया। वहीं सोमवार को मुख्य आरोपी के सहयोगी 7 अन्य आरोपियों की शिनाख्त हुई और वन विभाग ने सभी को गिरफ्तार कर लिया।

वन विभाग ने सागौन पेड़ काटने के आरोप में ग्राम हथवर निवासी बिहारी लाल विश्वकर्मा, हेम नारायण राजवाड़े, राजेश, उमा शंकर, सुनील, कलम साय, रविन्द्र, राम कुमार (सात आरोपी जगदीशपुर निवासी) के साथ एक ट्रैक्टर को जब्त किया है।


8 लाख की सागौन लकड़ी जब्त
बैकुंठपुर वनपरिक्षेत्र में जगदीशपुर सागौन प्लांटेशन से काटे गए पेड़ की इमारती लकड़ी को बरामद कर लिया गया है। नापजोख में 10 घन मीटर से अधिक लकड़ी बरामद हुआ है, जिसकी बाजार में कीमत 8 लाख रुपए है।

आरोपियों के खिलाफ भारतीय वन अधिनियम 1927 की धारा 42(1) और छत्तीसगढ़ वनोपज व्यापार विनियमन अधिनियम 1969 की धारा 16 के तहत कार्रवाई की गई है।

Read More: वैन से कर रहा था साल चिरान की तस्करी, बेचने जाते समय रास्ते में वन अमले ने पकड़ा

वहीं ट्रैक्टर को राजसात करने की तैयारी है। बैकुंठपुर वन विभाग की यह बड़ी कार्यवाही है। इस कार्रवाई से जंगल से पेड़ काटने व अवैध कारोबार में संलिप्त लोगों में हड़कंप मचा हुआ है। वहीं वन विभाग चोरी की लकड़ी खरीदने वाले व्यापारियों की खोजबीन में जुटा हुआ है।


वन समिति अध्यक्ष पर टै्रक्टर चढ़ाने की कोशिश
वन समिति अध्यक्ष नंदलाल कुल्हारिया ने पटना थाना में अपराध पंजीबद्ध कराया है। उसने पुलिस को बताया कि रविवार को भोर में करीब 4 बजे उरूमदुगा सागौन प्लांटेशन जंगल में लकड़ी काटने की आवाज सुनाई दी।

वह डिप्टी रेंजर बलराज पैकरा को फोन से सूचना देकर जंगल की तरफ अपनी बाइक क्रमांक सीजी 16 सीजे-2258 से कोटकताल रोड से जाने निकला। कोटकताल रजवारीपारा, राजा के आटा चक्की से थोड़ा सा आगे पहुंचा। इसी बीच जंगल से बिहारी पिता भोला राम ग्राम हथवर निवासी ट्रैक्टर को तेज गति से चला आ रहा था।

उसने बाइक पर चढ़ाने का प्रयास किया, तब वह बाइक से कूद गया और ट्रैक्टर बाइक को ठोकर मारकर निकल गया। इससे बाइक क्षतिग्रस्त हो गई। मामले में आरोपी चालक के खिलाफ धारा २७९, ४२७ के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है।


पेड़ काटने वालों को नहीं बख्शा जाएगा
जंगल बचाने के लिए वन विभाग किसी भी तरह कोई समझौता नहीं करेगा। पेड काटने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। सागौन के पेड़ काटने के मामले में 8 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। ट्रैक्टर को राजसात करने की कार्रवाई की जाएगी।
अखिलेश मिश्रा, वनपरिक्षेत्राधिकारी बैकुंठपुर

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned