सस्ती दर पर प्लॉट बेचने के नाम पर लाखों का फर्जीवाड़ा, इनामी भूमाफियाओं का खेल जानकर उड़ जाएंगे होश

दो वर्ष से थे फरार, प्रलोभन देकर कई लोगों से हड़पे लाखों रुपए

 

By: Rajesh Tripathi

Published: 15 May 2019, 09:40 PM IST

कोटा. जवाहर नगर थाना पुलिस ने बुधवार को दो इनामी भू-माफिया को गिरफ्तार किया है। ये लोगों को सस्ती दर पर भूखंड उपलब्ध कराने का झांसा देकर रुपए ऐंठते थे।
पुलिस ने कैथूनीपोल के मोखापाड़ा निवासी मनीष शर्मा (41) और देवली मांझी हाल मुकाम कैथूनीपोल रेतवाली निवासी सुनील शर्मा (30) को बुधवार शाम को गिरफ्तार किया। पुलिस ने आरोपियों पर 2-2 हजार रुपए का इनाम भी रखा हुआ था।

एसपी दीपक भार्गव ने बताया कि वांछित अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए एएसपी राजेश मील के नेतृत्व में वृताधिकारी संजय शर्मा, आरपीएस अधिकारी अंकित जैन, थानाधिकारी प्रवेन्द्र कुमार रावत के नेतृत्व में टीम गठित की। गिरफ्तार दोनों आरोपियों के खिलाफ अलग-अलग थानों में करीब डेढ़-ड़ेढ़ दर्जन मुकदमें दर्ज हैं। दोनों शातिर धोखेबाज अपराधियों की दो वर्ष से तलाश थी। इनका एक साथी भानू दाधीच पूर्व में ही गिरफ्तार हो चुका हैं।

इस तरह करते थे धोखाधड़ी
थानाधिकारी रावत ने बताया कि आरोपियों ने विनायक व राज प्रोपर्टी के नाम से अलग-अलग कार्यालय खोल रखे थे। जहां वे स्वयं नहीं बैठते थे। अन्य व्यक्तियों से प्लाट बेचने का कार्य करवाते थे। मध्यमवर्गीय एवं जरुरतमंद लोागों को आसान किस्तों में भूखंड उपलब्ध करवाने का झांसा देते थे। जो इनके झांसे में फंस जाता उसे फर्जी दस्तावेज तैयार करवाकर लाखों रुपए हड़प लेते। कार्यालय पर जो भी ग्राहक आता उसे बंधा-धर्मपुरा गांव की तरफ ले जाकर दूर से जमीन दिखा उसकी फाइल उसे सौंप देते थे। ग्राहक पूरा पैसा जमा होने के बाद मूल फाइल तैयार कराने पहुंचे तो आरोपी कार्यालय बंद करके फरार हो गए। वर्ष 2017 में दर्जन भर लोगों ने जवाहर नगर थाने में इनके खिलाफ मामले दर्ज करवाए थे।

Show More
Rajesh Tripathi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned