54 हजार का बिल 6-7 तक कर देंगे पर 15 देने पड़ेंगे..

पानी का बिल कम करने के लिए मांगी रिश्वत, एसीबी ने धरा

 

By: KR Mundiyar

Published: 22 Jun 2020, 06:28 PM IST

कोटा एसीबी की जलदाय विभाग मे कार्रवाई

कोटा. लगातार हो रही कार्रवाई के बावजूद कोटा में घूसखोर कर्मचारी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं।
सोमवार को कोटा एसीबी ने कार्रवाई करते हुए जलदाय विभाग के फिटर लक्ष्मण सिंह गहलोत और हेल्पर योगेंद्र सेन को रिश्वत लेते ट्रेप किया है। आरोपियों ने परिवादी के बिल की राशि 54 हजार की राशि को 6 से 7 हजार रुपए तक करने के एवज मे 15 हजार रुपए रिश्वत की मांग की थी।

Read More : चीन से ऐसी नफरत कि कोटा के उद्यमी ने कारोबारी रिश्ते तोड़ दिए

54 हजार का बिल 6-7 तक कर देंगे पर 15 देने पड़ेंगे..

परिवादी की शिकायत पर एसीबी ने आरोपियों को रिश्वत लेते रंगे हाथों ट्रेप किया है। दोनों आरोपी दादाबाड़ी जलदाय विभाग में कार्यरत हैं ।

54 हजार का बिल 6-7 तक कर देंगे पर 15 देने पड़ेंगे..

न्यास के तकनीकी सलाहकार को किया था ट्रेप
हाल ही कोटा एसीबी ने प्रधानमंत्री आवास योजना की किस्त के पैसे दिलावाने की एवज में रिश्वत मांगने वाले न्यास के तकनीकी सलाहकार को गिरफ्तार किया था। न्यास ने एसीबी की जांच के बाद कंसलटेंट की फर्म का लाइसेंस निरस्त कर दिया था, साथ ही सिक्योरिटी जमा राशि को भी जब्त करने के आदेश दिए थे।

Show More
KR Mundiyar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned