लोगों ने प्रशासन की गाइडलाइन की पालना करते हुए प्रतिमाओं को विसर्जित किया। किशोर सागर तालाब की पाल पर इस दौरान बड़ी संख्या में पुलिस कर्मी तैनात रहे। उन्होंने पाल पर भीड़ नहीं लगने दी। लोग प्रतिमाओं को लाते रहे और एक एक कर प्रतिमाओं को विसर्जित करते रहे। प्रशासन ने विसर्जन के लिए नावों की भी व्यवस्था की। दोपहर बारिश के बीच भी लोग प्रतिमा विसर्जित करते रहे।अनंत चतुर्दशी महोत्सव आयोजन समिति की ओर से सरकारी गाइडलाइन की पालना करते हुए शाम को सांकेतिक रूप से शोभायात्रा निकाली गई। जो सूरज पोल से शुरू होकर प्रमुख मार्गों से होते हुए बारहद्वारी पहुंची, जहां प्रतिमा को विसर्जित किया गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned