नाराज महापौर बोली, काम नहीं करने वालों को कर दो सस्पेंड

कोटा उत्तर नगर निगम में बदहाल सफाई व्यवस्था को लेकर महापौर ने बैठक ली तो पता चला कि कई सफाईकर्मी काम नहीं कर रहे हैं। वे अधिकारियों की भी नहीं सुनते।

By: Jaggo Singh Dhaker

Published: 29 Dec 2020, 11:21 AM IST

कोटा. कोटा उत्तर नगर निगम में बिना सूचना के अनुपस्थित चल रहे सफाई कर्मचारियों को निलम्बित करके अनुशासनात्मक कार्यवाही शुरू की जाएगी। शहर में सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए महापौर मंजू मेहरा ने सोमवार को सूरजपोल में सेक्टर-६ के कार्यालय पर अधिकारियों और निरीक्षकों की बैठक ली। इसमें पार्षदों से सफाई का फीडबैक लिया गया।
बैठक में सफाई हो रही कोताही से नाराज महापौर मेहरा ने कहा, ऐसे सफ ाई कर्मचारी जो लम्बे समय से अनुपस्थित चल रहे हैं, उनके निलम्बन की कार्यवाही तत्कालत की जाए। सफाई में किसी तरह की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। जो टिपर नियमित रूप से कचरा संग्रहण नहीं कर रहे हैं और उन पर लगे हेल्पर भी काम को सही ढंग से कार्य नहीं कर रहे हैं, उन टिपरों के संवदेकों को नोटिस जारी किए जाएं। वार्डों में पूर्व से ही रखे कचरा पात्रों से कचरा उठाने के लिए बिन्स प्लेसर लिफ्ट वाहन का उपयोग प्रतिदिन किया जाए, ताकि कचरा इधर-उधर नहीं फैला रहे। बैठक में समस्याओं की समीक्षा के दौरान पाया गया कि इस सेक्टर क्षेत्र के वार्डों में छोटे कचरा पात्र पर्याप्त मात्रा में नहीं हैं। इस पर उन्होंने निर्देशित किया कि तत्काल निगम में उपलब्ध छोटे कचरा पात्र तत्काल जरूरत की जगहों पर रखे जाएं। यहां नाले की सफ ाई के भी निर्देश दिए। बैठक में स्थानीय पार्षद जमना बाई, अजय सुमन, शबनम कुरैशी, नसरीन मिर्जा, आसिम खान, स्वास्थ्य अधिकारी सतीश मीना, सहायक अभियन्ता सचिन यादव, ओ.एस. अशोक जैन उपस्थित रहे।

Show More
Jaggo Singh Dhaker
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned