लोकसभा अध्यक्ष Om Birla से लगाई गुहार, बरसाती नाले बचाने में बनें मददगार

- पार्षद बोले, योजना लॉन्च हो गई तो कोचिंग एरिया में बनेंगे बाढ़ के हालात
- पारिजात कॉलोनी के बरसाती नाले पर भूखण्ड काटने की योजना का विरोध जारी

- योजना निरस्त करने की मांग : शहरवासियों ने यूआईटी के खिलाफ खोला मोर्चा

By: KR Mundiyar

Published: 23 Sep 2021, 12:24 AM IST

कोटा.

प्रदेश में अधिक बरसात वाले शहर कोटा के कोचिंग एरिया से गुजर रहे बरसाती नाले में यूआईटी की ओर से काटी योजना को लेकर शहरवासियों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। शहरवासियों ने बुधवार को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से बरसाती नाले में काटी गई योजना को निरस्त कराने की गुहार लगाई। बिरला से मिलने गए पार्षदों व लोगों के शिष्टमंडल ने कहा कि शहरवासियों के विरोध के बावजूद यूआईटी के अफसर पारिजात कॉलोनी महावीर नगर के बरसाती नाले में योजना काटने के लिए अड़े हुए हैं। लोगों ने चेताया कि नाले में योजना लॉन्च कर दी गई तो भविष्य में भारी बरसात होने पर कोचिंग सिटी क्षेत्र में बाढ़ के हालात बन जाएंगे। उन्होंने लोकसभा अध्यक्ष से पुरजोर आग्रह किया यूआईटी की ओर से नाले में काटी गई योजना को निरस्त किया जाए और लापरवाह अफसरों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। साथ ही, बरसाती नालों में किए गए अतिक्रमणों को अविलम्ब हटाने की प्रभावी कार्रवाई की जानी चाहिए।


पार्षद गोपालराम मंडा, विवेक राजवंशी, भानुप्रताप सिंह गौड़, कीर्तिकांत गोयल, कौशल किशोर शर्मा, प्रमोद शर्मा, दीपक सैन सहित कई गणमान्य लोगों ने लोकसभा अध्यक्ष बिरला को अवगत कराया कि बरसाती नाले में यूआईटी की काटी जा रही योजना को लेकर लोगों में भारी रोष है। आए दिन प्रदर्शन किए जा रहे हैं व ज्ञापन सौंपे जा रहे हैं, लेकिन यूआईटी के अफसर अपनी जिद पर अड़े हैं और योजना को निरस्त नहीं कर रहे। उन्होंने लोकसभा अध्यक्ष से आग्रह किया कि बरसाती नाले बचाने में वे मददगार बनें।

तख्तियां लेकर मिलने गए-

लोकसभा अध्यक्ष Om Birla से लगाई गुहार, बरसाती नाले बचाने में बनें मददगार

लोकसभा अध्यक्ष बिरला से मिलने गए पार्षदों व अन्य लोगों के हाथों में जन-जन की एक पुकार, नालों को बख्शो राज्य सरकार, बरसाती नाले बचाएंगे, तभी बाढ़ से निजात पाएंगे...जैसे संदेश लिखी तख्तियां थी।

लोकसभा अध्यक्ष Om Birla से लगाई गुहार, बरसाती नाले बचाने में बनें मददगार

तेज बारिश में बढ़ जाता है बहाव-
पार्षद दल ने लोकसभा अध्यक्ष को बताया कि पारिजात कॉलोनी के बरसाती नाले में यूआईटी ने भूखण्ड की योजना काटी है। इस नाले के आसपास कई कॉलोनियां हैं। नाले में पहले बाढ़ आती थी, लेकिन डायवर्जन चैनल बनने के बाद पानी नहीं आने का हवाला देकर प्लॉट काट दिए। इससे नाले की चौड़ाई कम हो गई। हकीकत यह है कि तेज बारिश में यह नाला फु ल हो जाता है। कभी ओवरफ्लो हुआ तो लोगों की जान मुश्किल में पड़ सकती है। लोगों को आर्थिक नुकसान भी उठाना पड़ेगा। इसका जिम्मेदार कौन होगा? इस कारण न्यास को इस योजना को निरस्त करना चाहिए।

लोकसभा अध्यक्ष Om Birla से लगाई गुहार, बरसाती नाले बचाने में बनें मददगार

पत्रिका ने उठाया था मामला-

Read More : UDH Minister शांति धारीवाल के शहर Kota में ये कैसा विकास, UIT ने बरसाती नाले में काटी योजना

लोकसभा अध्यक्ष Om Birla से लगाई गुहार, बरसाती नाले बचाने में बनें मददगार

पारिजात कॉलोनी स्थित बरसाती नाले में योजना काटने को लेकर राजस्थान पत्रिका ने गत दिनों प्रमुखता से समाचार प्रकाशित किया था। समाचार प्रकाशन के बाद क्षेत्र के पार्षद सहित शहरवासी बरसाती नाले को बचाने के लिए सड़कों पर उतर गए। शहरवासियों ने यूआईटी के खिलाफ प्रदर्शन कर अधिकारियों को ज्ञापन भी सौंपे। बरसाती नाले में काटी योजना एवं नालों पर बढ़े अतिक्रमणों को लेकर लोगों में यूआईटी के खिलाफ आक्रोश लगातार बढ़ रहा है।

लोकसभा अध्यक्ष Om Birla से लगाई गुहार, बरसाती नाले बचाने में बनें मददगारलोकसभा अध्यक्ष Om Birla से लगाई गुहार, बरसाती नाले बचाने में बनें मददगार
Show More
KR Mundiyar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned