खांसी जुकाम बढऩे न दें, वरना दबोच लेगा ये रोग...

Deepak Sharma

Publish: Dec, 08 2017 10:07:52 (IST)

Kota, Rajasthan, India
खांसी जुकाम बढऩे न दें, वरना दबोच लेगा ये रोग...

swine flu in kota लौट आया है स्वाइन फ्लू, एक ही परिवार के तीन पॉजीटि‍व मि‍ले

कोटा . सर्दी का असर बढ़ रहा है। जरा सा चूके नहीं कि खांसी जुकाम की चपेट में आ गए, लेकिन यहीं सावधान रहने की जरूरत है। खांसी जुकाम को बढऩे न दें, उपचार लें, वरना swine flu की चपेट में आने की आशंका है। इस वायरस ने फिर कोटा में दस्तक दे दी है। जिले के नोताड़ा गांव के एक ही परिवार में पिता और दो बच्चों को स्वाइन फ्लू पॉजीटिव मिला है। नोताड़ा निवासी दुर्गासिंह (50) मंगलवार को स्वाइन फ्लू पॉजीटिव पाए गए थे। ङ्क्षसह को परिजन बुधवार को जयपुर ले गए थे। एहतियातन परिजनों की जांच करवाई तो पुत्र करण सिंह (21) व पुत्री सुरभि (20) भी पॉजीटिव मिले। स्वाइन फ्लू पॉजीटिव केस सामने आने के दो दिन बाद भी चिकित्सा विभाग ने अब तक परिवार और आसपास के लोगों के लिए सुरक्षात्मक कदम नहीं बढ़ाए हैं।

Read More: पॉजीटि‍व और नेगेटिव एसडीपी भी न मि‍ले तो क्या करें, ये बता रहे एक्सपर्ट

संभलकर रहो...प्रदेश में swine flu से एक की मौत
कोटा में तीन रोगी मिलने के साथ ही प्रदेश में स्वाइन फ्लू से मौत के दो मामले भी सामने आए हैं। कुचामनसिटी से 35 वर्षीय पवन खंडेलवाल 2 दिसंबर को विवाह कार्यक्रम में शरीक होने के लिए जयपुर आया था। यहां उसकी तबीयत खराब हुई। परिजनों ने 4 दिसंबर को उसे फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया। आईसीयू में उपचार के दौरान 5 दिसंबर को मिली रिपोर्ट में वह स्वाइन फ्लू पॉजीटिव पाया गया। 6 दिसंबर को रात करीब 1.30 बजे उसकी मौत हो गई।

Read More: OMG! जिस जानलेवा जापानी वायरस से चिकित्सा महकमे की नींद उड़ी हुई है, उसके रोगी को नहीं किया भर्ती

यह घातक रूप
सामान्यत: कड़ाके की सर्दी और तेज गर्मी में swine flu वायरस कम सक्रिय रहता है, लेकिन इस मौसम में इसका लौटना खतरनाक माना जा रहा है। आमतौर पर स्वाइन फ्लू छोटे बच्चों, पहले से बीमार या गंभीर रोग से ग्रस्त व्यक्ति या गर्भवती महिलाओं में इतना जल्दी खतरनाक रूप लेता है। लेकिन इस मामले में युवक पूरी तरह स्वस्थ था। उसकी तबीयत अचानक बिगड़ी और तीन दिन में मौत हो गई। इसे बेहद गंभीर मामला माना जा रहा है। हालांकि चिकित्सकों का कहना है कि स्वाइन फ्लू के लक्षण साधारण फ्लू से मिलते-जुलते होने के कारण कई बार जल्दी जांच नहीं हो पाती।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned