जिंदगी की आस थी, लेकिन मौत ही हाथ लगी

नदी में बहे दो छात्रों का मामला
27 घंटे बाद घटनास्थल से साढ़े तीन किलोमीटर दूर मिला एक छात्र का शव
रेस्क्यू के दौरान एसडीआरएफ टीम पर दो बार हुआ मधुमक्खियों का हमला

By: Deepak Sharma

Updated: 06 Aug 2020, 04:13 PM IST

कोटा. रावतभाटा. राणा प्रताप सागर बांध के गेट से छोड़े पानी में बहे एक छात्र गर्वित जमटानी का शव 27 घंटे बाद बुधवार करीब शाम 5 बजे घटनास्थल से साढ़े तीन किलोमीटर दूर महूपुरा के पास चंबल नदी में एनडीआरएफ व एसडीआरएफ टीम ने खोज निकाला।

पुलिस उपाधीक्षक धनफू ल मीणा ने बताया कि गर्वित का शव ब्रिज साइट से करीब साढ़े तीन किलोमीटर दूर महुपुरा के पास चंबल नदी में मिला। गर्वित के शव को परमाणु बिजलीघर की मोर्चरी में रखयाया है, जहां गुरुवार सुबह पोस्टमार्टम होगा।

read more : दोस्त को मौत के पंजे से नहीं छुड़ा सका तो मौत को गले लगा लिया, पढ़ें दोस्ती की मार्मिक कहानी
https://www.patrika.com/kota-news/two-friend-washed-away-in-chambal-river-when-rescue-another-6319615/

मधुमक्खियों के हमले से रोकना पड़ा रेस्क्यू

जानकारी के अनुसार, बुधवार सुबह साढ़े 6 बजे से कोटा मुख्यालय से पहुंचे एसडीआरएफ के एक दर्जन जवानों ने चंबल नदी में चुलिया जल प्रपात से लेकर ब्रिज साइट तक का इलाका छाना। दोपहर को चुलिया जल प्रपात के नजदीक तलाशी अभियान के दौरान दो बार एसडीआरएफ टीम पर मधुमक्खियों ने हमला कर दिया। जिसमें करीब आधा दर्जन जवानों मधुमक्खियों के दंश के शिकार हुए। इसके चलते तलाशी अभियान रोकना पड़ा। दोपहर सवा 2 बजे कोटा से एनडीआरएफ की टीम घटनास्थल पहुंची। निरीक्षक हंसराज छारंग के नेतृत्व में 25 जवानों की टीम व एसडीआरएफ टीम ने तलाशी का दायरा बढ़ाते हुए शाम 5 बजे घटना स्थल से करीब साढ़े तीन किलोमीटर दूर गर्वित का शव ढूंढ़ निकाला।

ड्रोन उड़ाया, अब पानी के भीतर कैमरे से होगी तलाश

दोनों छात्रों की तलाश के लिए स्थानीय प्रशासन ने चंबल नदी क्षेत्र में ड्रोन उड़ा कर छात्रों की तलाश की। वहीं गुरुवार को दूसरे छात्र की तलाश के लिए पानी के भीतर कैमरे से तलाश की जाएगी। उपाधीक्षक धनफ ूल मीणा ने बताया कि मधुमक्खियों के हमले की वजह से संभावित स्थान पर रेस्क्यू रोकना पड़ा था। इसके चलते गुरुवार को बचाव दल के टीमें दोबारा उसी स्थान गौरांग की तलाश के लिए पानी के भीतर कैमरा डाल कर तलाश करेगी।

Show More
Deepak Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned