बूंदी. शहरभर के बाजार बुधवार को तीसरे दिन भी नहीं खुले। व्यापारियों ने प्रशासन के सुरक्षा का भरोसा देने के बाद भी अपने प्रतिष्ठान नहीं खोले। बाजारों में कई बार समझाइश का दौर चला। लोगों में डर बना रहा। शहर में लोग घरों में कैद होने को मजबूर हो गए हैं। महिलाएं, बच्चे व वृद्धों को घरों से बाहर निकलने में भी डर महसूस हो रहा है। बाजार बंद होने से महिलाएं भी अपने कामकाज के लिए बाहर नहीं निकल रही हैं। परिजन बच्चों को ट्यूशन व अन्य कार्य के लिए बाहर नहीं निकलने दे रहे हैं। इंटरनेट सेवाएं बहाल नहीं होने से आम जनजीवन बुरी तरह प्रभावित है।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned