ईमित्र संचालक बेच रहा सब्जी, रेडीमेड व्यवसायी फल

कोरोना महामारी व लॉकडाउन से सभी व्यवसाय प्रभावित हुए हैं। घर चलाने के लिए लोगों को व्यवसाय ही बदलना पड़ा।

By: Habulal Prakash Sharma

Published: 10 May 2020, 10:01 PM IST

हाबूलाल शर्मा

कोटा. कोरोना महामारी व लॉकडाउन से सभी व्यवसाय प्रभावित हुए हैं। घर चलाने के लिए लोगों को व्यवसाय ही बदलना पड़ा। सबसे ज्यादा परेशानी उन व्यापारियों को हो रही है, जिनकी दुकानें कफ्र्यूग्रस्त क्षेत्र में हैं।

Read More: तालेमेल की कमी से सेम्पलिंग में पिछड़ा कोटा


कोचिंग छात्रों का सहारा छूटा

विज्ञान नगर के मनीष अग्रवाल कोल्ड ड्रिंक्स, बिस्किट व कॉचिंग विद्यार्थियों के लिए जरूरी सामग्री की दुकान लगाते थे, लेकिन कोचिंग व अन्य शिक्षण संस्थान बंद हो गई। कोचिंग विद्यार्थी घर चले गए और लॉकडाउन में दुकानें भी बंद हैं। परिवार का खर्च चलाना भी जरूरी था। अब किराने की दुकान शुरू की है।

मनमानी कीमत वसूल रहे, 5 रुपए का जर्दे का पाउच 100 रुपए में बिक रहा

ई-मित्र की दुकान में सब्जी बेच रहे

गुमानपुरा अशोका कॉलोनी निवासी महेश कुमार गजनानी ईमित्र संचालक हैं। लॉकडाउन के बाद से दुकान बंद है। दुकान किराए की है। उसी में सब्जी की दुकान लगा ली। सब्जियां बेचने का अनुभव तो नहीं है, लेकिन इससे रोजाना 150 से 200 रुपए कमा लेते हैं, जिससे घर खर्च चल जाता है।

मुस्लिम समाज ने सफाईकर्मियों का पुष्पवर्षा कर किया स्वागत

रेडीमेड शोरूम से आए ठेले पर

सिंधी कॉलोनी निवासी मोहनलाल तनवानी का पुरानी सब्जीमंडी में रेडीमेड कपड़े का शोरूम है। इस क्षेत्र में कफ्र्यू लगा है। दुकान का किराया 23 हजार है, वहीं मकान का किराया भी 8 हजार रुपए है। डेढ़ माह से धंधा पूरी तरह बंद पड़ा है। परिवार वालों ने दबाव बनाया कि बैठे बैठे कैसे काम चलेगा। इसलिए फ्रूट का ठेला लगा रहा हूं।

राह भटके बुजुर्ग को संभाला, परिजन तलाश घर पहुंचाया

कबाड़ी का काम छोड़ नमकीन बेच रहे

गुमानपुरा सिंधी कॉलोनी निवासी अजय गेहीजा कबाड़ का काम करते थे। लॉकडाउन में किराना व मेडिकल के अलावा अन्य कोई दुकान खोल नहीं सकते। ऐसे में घर चलाने के लिए नमकीन की दुकान खोल ली। इस धंधे में रोजाना इतनी कमाई तो हो ही जाती है कि घर का खर्च चल जाए। कुछ नहीं करते तो घर चलाने का संकट होता।

Habulal Prakash Sharma Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned