शारीरिक दक्षता परीक्षा में फर्जी थम्ब इम्प्रेशन लगाते अभ्यर्थी पकड़ा

शारीरिक दक्षता परीक्षा में फर्जी थम्ब इम्प्रेशन लगाते अभ्यर्थी पकड़ा

Deepak Sharma | Publish: Sep, 10 2018 11:00:00 AM (IST) Kota, Rajasthan, India

-पुलिस भर्ती: लिखित परीक्षा भी फर्जी अभ्यर्थी ने ही दी थी

-दो लाख दिए थे फर्जी अभ्यर्थी को

 

कोटा. महाराव उम्मेदसिंह स्टेडियम में चल रही पुुलिस भर्ती प्रक्रिया में एक अभ्यर्थी को बायोमैट्रिक मशीन में फर्जी थम्ब इम्प्रेशन लगाते पुलिस ने पकड़ लिया। बायोमैट्रिक मशीन में अंगूठा निशान का मिलान नहीं हुआ तो अभ्यर्थी घबरा गया और पकड़ा गया।
नयापुरा थानाधिकारी मनोज राणा ने बताया कि स्टेडियम में चल रही कोटा शहर पुलिस भर्ती प्रक्रिया में शारीरिक दक्षता परीक्षा का रविवार को दूसरा दिन था। स्टेडियम में प्रवेश के बाद अभ्यर्थियों की बायोमैट्रिक मशीन से जांच की जा रही थी। जांच के दौरान एक अभ्यर्थी राजेश कुमार मीणा की जब बायोमैट्रिक व दस्तावेजों की जांच की गई तो बायोमैट्रिक मशीन में उसका दो तीन बार अगूंठा लगाने के बाद भी इम्प्रेशन मिलान नहीं हुआ। इस पर वह घबरा गया और पकड़ा गया। उन्होंने बताया कि उसके जीजा योगेश व बिहारी की तलाश की जा रही है। उनके पकड़े जाने के बाद ही पता चल पाएगा कि यह किसी फर्जी भर्ती करवाने वाले गिरोह का काम तो नहीं।

लिखित परीक्षा में पास करवाने के लिए दिए दो लाख

थानाधिकारी ने बताया कि राजेश ने भर्ती प्रक्रिया में कोटा शहर से आवेदन किया था। आवेदन के बाद इसके जीजा योगेश कुमार मीणा ने कहा कि भर्ती होना है तो दो लाख रुपए लगेंगे। राजेश के हां करने पर योगेश ने एक लड़के से मिलवाया जिसे वह बिहारी कहकर बोल रहा था। उसी बिहारी नाम के लड़के ने जयपुर में हरमाड़ा स्थित परीक्षा सेन्टर पर उससे प्रवेश-पत्र लिया और लिखित परीक्षा दी।

थम्ब इम्प्रेशन क्लोन
थानाधिकारी ने बताया कि अलवर निवासी राजेश को शारीरिक दक्षता परीक्षा के लिए उसका जीजा योगेश कुमार व बिहारी बोलेरो कार से रविवार सुबह ही कोटा पहुंचे थे। उन्होंने मीणा के अंगूठे पर थम्ब इम्प्रेशन क्लोन लगाकर स्टेडियम के अन्दर भेज दिया। लेकिन वह बायोमैट्रिक मशीन पर पकड़ा गया। अभ्यर्थी राजेश ने बताया कि लिखित परीक्षा के दिन भी बिहारी ने चैकिंग के दौरान थम्ब इम्प्रेशन क्लोन का प्रयोग किया था।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned