धोखाधड़ी के आरोपी को दबोचा, तो खुलते गए मामले...

आधा दर्जन मामलों में न्यायालय में था वाछिंत, न्यायालय ने भेजा जेल

By: Mukesh

Updated: 07 Mar 2020, 10:17 PM IST

कोटा. दादाबाड़ी पुलिस ने 28 लाख रुपए हड़पकर फरार हुए भगोड़े को शनिवार को गिरफ्तार किया। आरोपी को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

थानाधिकारी ताराचंद ने बताया कि माला रोड निवासी विजय कुशवाह ने 23 जनवरी को दादाबाड़ी विस्तार योजना निवासी मनोज जैन के खिलाफ प्रकरण दर्ज करवाया। जिसमें कुशवाह ने बताया कि शिवपुरा रावतभाटा रोड पर मनोज जैन ने उसे एक दुकान 10 लाख रुपए में फर्जी कागजों के आधार पर बेच दी और कब्जा दिए बना ही फरार हो गया। पुलिस ने जांच की, तो पता चला कि मनोज जैन पूर्व से ही विशिष्ट न्यायालय एनआईएक्ट प्रकरण कोटा से जारी 6 स्थायी वारंटों में फरार चल रहा है।
पुलिस को अपने मुखबिरों से जानकारी मिली कि मनोज जैन उदयपुर में पहचान बदलकर रह रहा है।

जब बदमाश की धरपकड़ के लिए पुलिस टीमें वहां भेजी, तो बदमाश भनक लगने पर वहां से भी भाग गया। बदमाश परिवार सहित इन्दौर शिफ्ट हो गया, किन्तु पुलिस टीम द्वारा तकनीकी साधनों का उपयोग करते हुए एवं मुखबिर की सूचना पर उसका पता लगा लिया। पुलिस ने बदमाश मनोज जैन को इन्दौर के छत्रपुरा से गिरफ्तार कर कोटा लाए। मनोज जैन ने पूछताछ में बताया कि वह कुन्हाडी सहित अन्य थानों के मामलों में भी फरार चल रहा है। मनोज जैन को न्यायालय में पेश कर कोटा जेल में दाखिल करवाया गया। अनुसंधान से मनोज जैन द्वारा कोटा शहर के कई लोगों से करीबन 28 लाख रुपए हड़पना सामने आया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned