दान-पुण्य कर मनाया मकर संक्रांति का त्यौहार

दान-पुण्य कर मनाया मकर संक्रांति का त्यौहार

Shailendra Tiwari | Publish: Jan, 14 2018 01:04:51 PM (IST) | Updated: Jan, 14 2018 08:21:50 PM (IST) Kota, Rajasthan, India

रावतभाटा शहर समेत आसपास के क्षेत्रों में मकर संक्रांति का त्यौहार रविवार को दान पुण्य कर परम्परागत रूप से धूमधाम व हर्षोल्लास से मनाया गया।

रावतभाटा.
शहर समेत आसपास के क्षेत्रों में मकर संक्रांति का त्यौहार रविवार को धूमधाम व हर्षोल्लास से मनाया गया। लोगों ने चंबल नदी में स्नान कर सूर्य को अध्र्य दिया तथा दान पुण्य कर संक्रांति का त्यौहार मनाया।


गायों को दिया चारा -
मकर संक्रांति के अवसर पर लोगों ने गायों के लिए दिन खोलकर चारे का दान किया। इसके चलते सभी चौराहों पर मोड़ों पर हरा घास व चारा डाला गया। इसके अलावा शहर की गोशाला में भी गायों को बड़ी संख्या में लोगों ने चारा डाला। रावतभाटा की गोशाला में पहुंचकर लोगों ने परिजनों से साथ गायों को चारा खिलाा। इसके अलावा गरीबों को दान किया। चंबल नदी में मछलियों को आटे की गोलियां भी डाली गई।


महिलाओं ने बांटे उपहार -
मकर संक्रांति के अवसर पर महिलाओं ने विशेष पूजा अर्चना कर एक-दूसरे को १४ उपहार भेंट किए। मकर संक्रांति पर महिलाओं द्वारा एक दूसरे को उपहार दिए जाते है। इसके साथ ही तिल के लड्डू व अन्य उपहार भी दिए गए।


गरीबों को किया दान -
रविवार को लोगों ने कच्ची बस्तियों व गांवों में जाकर दान पुण्य किया। इस अवसर पर गरीबों को कपड़े, फल, बिस्किट व अनाज समेत अन्य वस्तुओं का वितरण किया गया।


भंडारों का हुआ आयोजन -
शहर में रविवार को मकर संक्रांति के अवसर पर जगह-जगह भंडारों का आयोजन किया गया। चारभुजा की चंदरपुरिया भील बस्ती में तथा चारभुजा मंदिर पर गुर्जर समाज की ओर से किए गए भंडारे में बड़ी संख्या में लोगों ने प्रसादी पाई।


मंदिरों में हुए विशेष आयोजन -
रावतभाटा समेत आसपास के क्षेत्रों में रविवार को मंदिरों में विशेष आयोजन किए गए। मंदिरों में सुबह से ही भक्तों की कतारें लगी रही।


पतंगबाजी व गुल्ली-डंडे का लिया लुत्फ -
रावतभाटा में युवाओं बच्चों समेत लोगों पतंगबाजी का लुत्फ लिया। सुबह से ही आकाश में पतंगबाजों ने पतंगबाजी के दांव पेच दिखाने शुरू कर दिए। जो शाम तक चलते रहे। इसके अलावा बच्चों व युवाओं ने मैदानों में गुल्ली-डंडे का खेल का मजा लिया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned