कोटा से निकला नगर कीर्तन, टोंक पहुंचा

- गुरुद्वारा भगत धन्नाजी में आज मनाया जाएगा सालाना समागम

By: surendra verma

Published: 01 Mar 2020, 06:13 PM IST

कोटा. गुरुद्वारा अगमगढ़ साहिब गुरुद्वारे से शनिवार को गुरुद्वारा भगत धन्नाजी धुंआकला के लिए रवाना हुआ। यह शाम को टोंक पहुंचा। जहां रविवार को सालाना समागम का आयोजन किया जाएगा। इसमें हजूरी रागी जत्थे शबद कीर्तन कर संगत को निहाल करेंगे। इससे पहले शनिवार सुबह जत्थरेदार बाबा लक्खा सिंह के सान्निध्य में नगर कीर्तन रवाना हुआ।
नगर कीर्तन में गुरुग्रन्थ साहिब की सवारी, पंजप्यारे व वाहनों से बड़ी संख्या में संगत शामिल हुई।

बडग़ांव स्थित गुरुनानक पब्लिक स्कूल के बच्चों ने कीर्तन का स्वागत किया। विद्यालय प्रबंधन समिति की ओर से गुरूद्वारे के मुख्य बाबा लक्खा सिंह व बाबा बलविंदर सिंह एवं पंज प्यारों को सिरोपा भेंट किया गया। इस दौरान 'वाहे गुरुजी का खालसा, वाहे गुरुजी की फतह, जो बोले सो निहाल, सत श्री अकाल गूंजते रहे।

कूली बच्चे नगर कीर्तन के साथ बडग़ांव स्थित स्कूल तक गए। जहां से जत्था स्वागत व सत्कार के बीच तालेड़ा, बूंदी व देवली होते हुए टोंक पहुंचा। जहां शाम को खुले पांडाल में दीवान सजाया गया। गुरुद्वारा कमेटी की ओर से सुखविंदर सिंह ने बताया कि टोंक में रविवार सुबह अखंड पाठ साहब के समापन के बाद 10 बजे से दीवान सजेगा।

अमृतसर के हजूरी रागी सुखवंत सिंह व कथावाचक सरबजीत सिंह शबद कीर्तन कर संगत को निहाल करेंगे। गुरु का अटूट लंगर भी बरतेगा।

Show More
surendra verma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned