Yoga Day 2019: कोचिंग नगरी पर छाया योग का जादू

Yoga Day 2019: दुनियाभर में 21 जून को इंटरनेशनल योग दिवस (International Yoga Day) मनाया जाता है । PM Modi के सुझाव के बाद संयुक्त राष्ट्र ने 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाने का ऐलान करके पूरी दुनिया को स्वस्थ रहने का मंत्र दिया ।

By: Suraksha Rajora

Published: 20 Jun 2019, 10:06 PM IST

Kota, Kota, Rajasthan, India

इंटरनेशनल योगा डे (International Yoga day) 21 जून को मनाया जा रहा है । इस दिन लेकर कोटा में पिछले महीनों से तैयारी की जा रही है खासकर बच्चो को इस दिवस से जोड़ने के लिए योग विशेषज्ञ उन्हें तैयार करने में जुटे है । उत्साहित बच्चे और बड़े हर कोई योग के जुड़े फायदों के बारे में बात करता है और योगा करते हुए तस्वीरों को शेयर कर रहा है । पीएम मोदी से लेकर शिल्पा शेट्टी तक सभी योग दिवस के दिन खास वीडियो और तस्वीरें साझां करते है । वीडियो में देंखे कोटा में कैसे योग दिवस को सेलिब्रेट किया जा रहा है...फोटो जर्नलिस्ट नीरज गौतम ने कैद की कुछ ऐसी ही तस्वीरें

Read More: संसद में छाई Kota Kachori पीएम मोदी से लेकर कई सेलिब्रिटी भी है इसके दीवाने

साथ ही मैसेज देते हैं कि किस तरह योग हमारे शरीर को स्वस्थ और निरोगी बनाए रखने के लिए जरूरी है ।इसके साथ ही योग दिवस के खास मैसेजेस भी एक-दूसरे से शेयर किए जाते हैं । इस साल योग दिवस की थीम है क्लाइमेट एक्शन (Climate Action). बता दें, 21 जून को ही साल का सबसे बड़ा दिन होता है और इसी दिन वर्ल्ड म्यूजिक डे (World Music Day) भी मनाया जाता है ।

 

ऐसे हुई योग दिवस की शुरुआत?


दुनिया भर के कई देशों में लोग स्वस्थ रहने के लिए योग करते हैं ।लेकिन अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने की शुरुआत भारत की पहल के चलते हुई । Prime Minister Narendra Modi ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में 27 सितंबर 2014 को दुनियाभर में योग दिवस मनाने का आह्वान किया था । United Nations महासभा ने प्रस्ताव आने के बाद सिर्फ तीन महीने के अंदर इसके आयोजन का ऐलान कर दिया था ।

महासभा ने 11 दिसंबर 2014 को यह ऐलान किया कि 21 जून का दिन दुनिया में योग दिवस (Yoga Diwas) के रूप में मनाया जाएगा । जिसके बाद दुनिया भर के लोग हर साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day) के रूप में मनाते हैं ।

21 जून को ही क्यों मनाया जाता है योग दिवस?
21 जून के दिन को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के लिए चुनने की भी एक खास वजह है ।दरअसल यह दिन उत्तरी गोलार्द्ध का सबसे लंबा दिन है, जिसे ग्रीष्म संक्रांति भी कह सकते हैं । indian culture के दृष्टिकोण से, ग्रीष्म संक्रांति के बाद सूर्य दक्षिणायन हो जाता है और सूर्य के दक्षिणायन का समय आध्यात्मिक सिद्धियां प्राप्त करने में बहुत लाभकारी है । इसी कारण 21 जून का दिन अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day) मनाने के लिए निर्धारित किया गया था ।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned