लॉक डाउन में भी पंजाब से कम्बाइन हार्वेस्टिंग मशीनें आ सकेंगी

कृषि विभाग के प्रमुख शासन ने पंजाब के अतिरिक्त मुख्य सचिव को खिला था पत्र

By: Ranjeet singh solanki

Published: 28 Mar 2020, 10:03 PM IST

कोटा। लॉक डाउन के कारण किसानों की फसलों की कटाई के लिए पंजाब से कम्बाइन हार्वेस्टिंग मशीनें नहीं आने की बाधा को दूर करने के उच्च स्तर पर प्रयास शुरू हो गए हैं। पंजाब से कुछ मशीनें आना शुरू हो गई है। प्रदेश में सबसे पहले गेहूं की फसल कोटा संभाग में आती है। यहां मशीनों की सख्त जरूरत है।प्रमुख शासन सचिव कृषि नरेशपाल गंगवार की ओर से पत्र लिखने के बाद पंजाब सरकार ने फ सल कटाई के लिए कम्बाइन हार्वेस्टिंग मशीनों के राजस्थान में प्रवेश के लिए जरूरी कार्रवाई शुरू कर दी है। प्रमुख शासन सचिव ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए चल रहे लॉक डाउन के मद्देनजर पंजाब के अतिरिक्त मुख्य सचिव कृषि को पत्र लिखकर किसान हित में फ सल कटाई के लिए कम्बाइन हार्वेस्टिंग मशीनों के राजस्थान में प्रवेश के लिए जरूरी कार्रवाई करने का अनुरोध किया। इस पर पंजाब के कृषि सचिव ने वहां के सभी डिप्टी कमिश्नर को इन मशीनों के राज्य के भीतर आवागमन एवं अन्य प्रदेशों में जाने के लिए आवश्यक अनुमति एवं पास शीघ्र जारी करने के निर्देश दिए हैं।

अंतर जिला परिवहन की अनुमति के निर्देश

प्रमुख शासन सचिव ने राज्य के सभी जिला कलक्टर्स को गेहूं की फ सल कटाई के लिए कम्बाइन हार्वेस्टरों के अंतरजिला परिवहन की अनुमति देने के निर्देश दिए हैं। हार्वेस्टरों के संचालन के लिए जिले से लक्षित जिले के लिए पास जारी किए जा सकते हैं। फसल कटाई में मशीन का अधिक प्रयोग तथा मानव श्रमिकों का कम नियोजन कोविड.19 के संक्रमण को कम करने में भी मददगार है। हार्वेस्टर के ड्राइवर, क्लीनर,ए हैल्पर आदि का स्वास्थ्य परीक्षण करते हुए पूरा रिकॉर्ड संधारित करने के निर्देश दिए हैं।

पत्रिका ने उठाया था मुद्दा

लॉक डाउन के दौरान मशीनें नहीं आने का मसला हाल में पत्रिका ने प्रमुखता से उठाया था। इसके बाद किसान संगठनों और जनप्रतिनिधियों ने भी किसानों की आवाज सरकार तक पहुंचाई थी। इसके बाद उच्च स्तर पर पंजाब से मशीनें आने की अनुमति की प्रक्रिया शुरू हुई।

BJP Congress
Show More
Ranjeet singh solanki
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned