रेलकर्मियों को तेजी से गिरफ्त में ले रहा कोरोना

कोरोनावायरस के संक्रमण की चपेट में बड़ी संख्या में रेलकर्मी भी आ रहे हैं। इससे रेल परिचालन चुनौतिपूर्ण होता जा रहा है। ट्रेन संचालन से जुड़े कार्मिक बड़ी संख्या में पॉजिटिव आ रहे हैं। रेल प्रशासन लगातार बचाव उपाय कर रहा है, लेकिन रोगियों की संख्या बढ़ती जा रही है।

By: Jaggo Singh Dhaker

Published: 21 Apr 2021, 11:15 AM IST

कोटा. कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है, इसकी चपेट में बड़ी संख्या में रेलकर्मी भी आ रहे हैं। कोटा मंडल और कोटा माल डिब्बा कारखाने में बड़ी संख्या में पॉजिटिव केस सामने आए हैं। कई रेलकर्मियों की मौत भी हो चुकी है। रेलवे अधिकारियों के अनुसार अब तक 6 रेलकर्मियों की कोरोना पॉजिटिव होने के बाद मौत हो चुकी है। पश्चिम मध्य रेलवे के कोटा मंडल में इस समय 546 से ज्यादा रेलकर्मी पॉजिटिव हैं। इनमें लोको पायलट, गार्ड और परिचालन से जुड़े अन्य कर्मचारी भी शामिल हैं। कोटा मंडल के करीब 40 प्रतिशत अधिकारी भी बीमारी की चपेट में आ गए हैं। इसके अलावा रेलवे कर्मचारियों के 192 और 38 सेवानिवृत्त रेलकर्मी भी पॉजिटिव आ चुके हैं। अन्य जोन और मंडलों में भी पॉजिटिव रेलकर्मी सामने आ रहे हैं। इससे रेल प्रशासन की नींद उड़ गई है। रेलवे अधिकारियों को यह चिंता सता रही है कि यदि यह रफ्तार नहीं रुकी तो ट्रेनों का संचालन करना मुश्किल हो जाएगा। इस बारे में पश्चिम मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राहुल जयपुरिया ने बताया कि रेलकर्मियों के बचाव के इंतजामों पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। टीकाकरण भी तेजी से किया जा रहा है। कोटा रेल मंडल में कार्मिक विभाग के सभी अधिकारी पॉजिटिव हो चुके हैं।

Show More
Jaggo Singh Dhaker
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned