राजस्थान में अब तक कोरोना ने 706 की जान ली

देशभर में कोविड-19 बीमारी से अब तक लगभग 11.5 लाख मरीज ठीक हो चुके हैं। ठीक होने की दर बढ़कर 65.44 हो गई है, लेकिन कोटा में रिकवरी रेट कम हो गई है।

By: Jaggo Singh Dhaker

Published: 03 Aug 2020, 12:46 AM IST

कोटा. भारत में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 51225 मरीजों के ठीक होने और उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिलने के साथ ही कोविड-19 से ठीक होने वाले लोगों की संख्या 2 अगस्त 2020 को बढ़कर 11,45,629 हो गई है। पिछले 24 घंटों में एक दिन के दौरान अब तक सबसे अधिक मरीजों के ठीक होने के साथ ही इस बीमारी से ठीक होने की दर अब तक की सबसे अधिक 65.44 हो गई है। इसका मतलब है कि अब कोविड-19 के अधिक से अधिक मरीज ठीक हो रहे हैं और उन्हें अस्पतालों से छुट्टी दी जा रही है। राजस्थान में 2 अगस्त तक 44 हजार 410 कोविड रोगी सामने आ चुके हैं। राजस्थान में 2 अगस्त को एक दिन में 1167 केस आए। वहीं राज्य के कोटा जिले में अब तक 2 हजार से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। पिछले कुछ दिनों में कोटा में रिकवरी रेट में गिरावट आई है। कोटा में 1 हजार से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव रोगी है। इनमें से करीब 400 को घरों पर आइसोलेट करके उपचार किया जा रहा है। राजस्थान में कोरोना से अब तक 706 मौतें हो चुकी है और कोटा में कोरोना ने 41 लोगों की जान ले ली है।

कोटा में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 2 हजार के पार पहुंच गया है, जबकि रिकवर मरीजों की संख्या करीब 1 हजार है। इसी के साथ रिकवरी का प्रतिशत 76 से घटकर 50 प्रतिशत रह गया। कोटा में 6 अप्रेल को मिले पहले मरीज के बाद 1 हजार संक्रमित मरीज मिलने की गति का विश्लेषण किया तो सामने आया कि पहले 105 दिन में संक्रमितों का आंकड़ा 1 हजार तक पहुंचा था। 19 जुलाई तक 1015 पॉजिटिव केस रिपोर्ट हुए थे। उसके बाद कोरोना ने रफ्तार पकड़ी। 1000 से 2000 होने में मात्र 14 दिन का वक्त लगा। कोटा में लॉकडाउन के समय में 500 केस सामने आए थे। अनलॉक 1 में कोरोना का असर कम देखने को मिला। धीमी रफ्तार के चलते अनलॉक-1 के 27 दिन में केवल 169 केस सामने आए थे, लेकिन अनलॉक-2 में कोटा में कोरोना के सारे रिकॉर्ड टूट गए।

Jaggo Singh Dhaker
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned