कोटा में बिहार के विद्यार्थी उपवास की राह पर

अपने घर जाना चाहते हैं, बिहार सरकार से लगा रहे गुहार

 

By: Jaggo Singh Dhaker

Published: 23 Apr 2020, 09:31 PM IST

कोटा. कोटा में कोचिंग करने आए बिहार और झारखंड के हजारों विद्यार्थी अपने घर जाना चाहते हैं, लेकिन वहां की सरकार अनुमति नहीं दे रही है। इसलिए वे अब उपवास करने जैसा कदम उठाने को मजबूर हो रहे हैं। ये विद्यार्थी घर जाने के लिए हर मंच पर आवेदन, निवेदन और प्रार्थना कर चुके हैं। थक हारकर उपवास की राह अपनाई है। वे अपने हॉस्टल में ही उपवास कर रहे हैं। हाथों में तख्तियां लेकर वे बिहार सरकार से घर बुलाने की गुहार लगा रहे हैं। वे महात्मा गांधी के सिद्धान्तों को दर्शाते हुए बुरा न देखो, बुरा न सुनो, बुरा न बोलो का संदेश भी दे रहे हैं। उनका कहना है कि उनकी आवाज नहीं सुनी जा रही है। उपवास के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की पालना भी कर रहे हैं।

कोटा से 16 हजार से अधिक विद्यार्थी घर जा चुके

उनका कहना है कि वे अपनी आवाज बिहार सरकार तक पहुंचाने के लिए ऐसा कर रहे हैं ताकि वे जल्द घर जा सकें। दरभंगा बिहार की मिलन जायसवाल ने बताया कि सभी राज्यों के विद्यार्थी जा रहे हैं, लेकिन हमारी सरकार क्यों नहीं सुन रही। हमारे माता-पिता वहां बहुत चिंता में हैं और इस कारण हम भी तनाव में हैं। बिहार सरकार को हमारी तकलीफ सुननी चाहिए। बिहार की छात्रा अनन ने कहा, हमें यहां बहुत मानसिक तनाव हो रहा है। सभी राज्यों के विद्यार्थी यहां से जा रहे हैं, लेकिन हमारी सरकार हमारी सुध नहीं ले रही। माता-पिता फोन पर हालचाल पूछते हैं तो हम परेशानी भी नहीं बता पा रहे, क्योंकि इससे उनका भी तनाव बढ़ेगा।

धारीवाल बोले, केंद्र से नहीं मिल रही मदद, गेहूं सड़ने के बाद बाटेंगे क्या


43 विद्यार्थी हुए रवाना
कोटा में रह रहे कोचिंग विद्यार्थियों का घर लौटना जारी है। गुरुवार को करीब 43 बच्चे रवाना हुए। इनमें सिलवासा के 20, दादर नागर हवेली के 9 और दमन दीव के 14 बच्चे शामिल हैं। कोटा से अब तक 16 हजार से ज्यादा बच्चे अपने घर लौट चुके हैं। उत्तरप्रदेश, उत्तराखंड, गुजरात और मध्यप्रदेश के विद्यार्थी जा चुके हैं। अभी भी कोटा में 20 हजार से ज्यादा विद्यार्थी हैं। इनमें काफी बड़ी संख्या बिहार और झारखंड के विद्यार्थियों की है। वे लगातार अपने घर जाने क कोशिश में लगे हैं।

Corona virus
Show More
Jaggo Singh Dhaker
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned