कोटा फल-सब्जी मंडी में अब किसान सब्जियां लेकर नहीं आ पाएंगे

फल-सब्जी मंडी में भीड़ नियंत्रित करने के लिए उठाया बड़ा कदम

कोटा। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को नियंत्रित करने तथा सोशल डिस्टेंस कायम रखने के लिए शनिवार से कोटा थोक फल-सब्जी मंडी में किसानों के सब्जियां लाकर बेचने पर पाबंदी लगा दी है। साथ ही किसानों के लिए ऐसी व्यवस्था की है कि वे जिस क्षेत्र से आते हैं, उसे क्षेत्र की सब्जी मंडी में सब्जियां बेच सकेंगे। इससे थोक फल-सब्जी मंडी में ग्राहकों की भीड़ भी ज्यादा एकत्रित नहीं होगी। मंडी समिति के कर्मचारी सभी मंडियों में तैनात रहेंगे, जो किसानों के लिए व्यवस्था करेंगे।थोक फल-सब्जी मंडी समिति के अध्यक्ष ओम मालव ने बताया कि जिला कलक्टर ओम कसेरा और पुलिस उपाधीक्षक संजय शर्मा से थोक फल-सब्जी मंडी की नई व्यवस्था के बारे में चर्चा करने के बाद जनहित में महत्वपूर्ण निर्णय किए हैं। थोक फल-सब्जी मंडी में शुक्रवार से बाहर से ट्रकों व अधिक मात्रा में आने वाली सब्जियां जैसे आलू, टमाटर, अदरक और फल की ही बिक्री की जाएगी। शुक्रवार को किसानों को रोकर समझाइश की जाएगी। पूरे किसानों तक नए फैसले के बारे में जानकारी नहीं जा पाई है, इसलिए शनिवार से सब्जियां लेकर आने वाले किसानों को थोक फल-सब्जी मंडी में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। यह व्यवस्था केवल कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने लिए ही उठाया गया है।

यह व्यवस्था रहेगी

- बूंदी रोड की तरफ से सब्जियां लेकर आने वाले किसान अब बालिता, नयापुरा ,दादाबाड़ी तथा संतोषी नगर सब्जी मंडी में सब्जियां बेच सकेंगे।

- बारां की तरफ से आने वाले किसान बोरखेड़ा व छावनी सब्जी मंडी में सब्जियां बेच सकेंगे।

-केशवरायपाटन व स्टेशन क्षेत्र के गांवों के किसान स्टेशन रोड पर हाट बाजार वाली जगह सब्जियां बेचेंगे।

- कैथून रोड की तरफ से आने वाले किसान के लिए डीसीएम रोड की सब्जी मंडी में व्यवस्था की है।

- झालावाड़ की ओर से आने वाले किसान अनंतपुरा सब्जी मंडी में सब्जियां बेच सकेंगे।

BJP Congress
Show More
Ranjeet singh solanki
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned