कोरोना खौफ: एनवक्त पर रिश्तेदारों को फोन पर कार्यक्रम निरस्त होने की दी सूचना

कोटा में कोटड़ी नहर के पास स्थित नाग नागिन मंदिर में गुरुवार सुबह समारोह के लिए टेंट लग चुके थे, समारोह में खाना बनाने के लिए भट्टिया लग चुकी थी और पूरा सामान मंदिर में आ चुका था। लेकिन कोरोना वायरस के खौफ को देखते हुए मंदिर समिति ने समारोह आयोजित नहीं होने दिया। मजबूरन समारोह आयोजित करने वाले परिवार को सामान समेटकर वापस लौटना पड़ा।

By: Haboo Lal Sharma

Published: 19 Mar 2020, 06:58 PM IST

कोटा. कोटड़ी नहर के पास स्थित नाग नागिन मंदिर में गुरुवार सुबह समारोह के लिए टेंट लग चुके थे, समारोह में खाना बनाने के लिए भट्टिया लग चुकी थी और पूरा सामान मंदिर में आ चुका था। लेकिन कोरोना वायरस के खौफ को देखते हुए मंदिर समिति ने समारोह आयोजित नहीं होने दिया। मजबूरन समारोह आयोजित करने वाले परिवार को सामान समेटकर वापस लौटना पड़ा।

कोरोना वायरस से बचाव के लिए यहां मिल रहा है आयुर्वेदिक काढ़ा


मंदिर पुजारी मुकुट शर्मा ने बताया कि बहुत दिन पहले ही बजरंगनगर निवासी पृथ्वीराज सिंह ने अपने बच्चे के मुंडन संस्कार के लिए मंदिर में १९ मार्च के लिए जगह बुक कराई गई थी। आज सुबह टेंट लगा दिया और भट्टिया लगा दी। मंदिर समिति ने पृथ्वीराज सिंह से कोरोना वायरस के खौफ को देखते हुए कार्यक्रम निरस्त करने या दूसरी जगह पर कार्यक्रम आयोजित करने के लिए कहा और सामानों को वापस गाड़ी में रखवा दिया। पृथ्वीराज सिंह ने बताया कि कार्यक्रम में करीब 250 से 300 लोगों को आना था। कार्यक्रम पहले से निर्धारित था। लेकिन मंदिर समिति ने राज्य सरकार द्वारा जारी एडवाइजरी व कोरोना वायरस को देखते हुए कार्यक्रम को निरस्त करना पड़ा। इसके बाद सुबह से ही सभी रिश्तेदारों को फोन कर कार्यक्रम निरस्त होने की सूचना देने में लग गया।

Corona virus
Haboo Lal Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned