ममता की भरी गोद, हर्जाना चुकाएंगे राजस्थान के आला अफसर...

Suraksha Rajora

Publish: May, 30 2019 05:27:02 PM (IST)

Kota, Kota, Rajasthan, India

कोटा. नसबंदी फेल पर collector , CMHO , चिकित्सा अधिकारी ,को देना होगा हर्जाना। जी हां परिवार नियोजन योजना में ₹30000 देने के आदेश कोटा स्थाई लोक अदालत ने गुरुवार को नसबंदी फेल होने के मामले में दिए गए है।

मासूम का क्या कसूर ! गला दबाकर पानी की टंकी में डुबोकर ली जान...पिता पर जताई हत्या की आशंका

पीड़िता को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य परिवार कल्याण विभाग सेटेलाइट अस्पताल रामपुरा चिकित्सा अधिकारी प्रभारी रामपुरा चिकित्सा अधिकारी प्रभारी जेके लोन चिकित्सालय और जिला कलेक्टर को एक माह के अंदर ₹30000 का भुगतान और 7% की दर से ब्याज देने के आदेश दिए।

क्यों है धारीवाल का विभाग कठघरे में ? अवैध बहुमंजिला इमारतो के खिलाफ कांग्रेस कार्यकर्ताओं का हल्ला बोल

पीड़िता ममता पत्नी जगदीश निवासी नांता बरडा बस्ती कुन्हाड़ी निवासी ने court में प्रस्तुत परिवाद में बताया कि 29 जनवरी 2016 को उसने नसबंदी शिविर में ऑपरेशन करवाया था। 24 मई 2016 को टेस्ट करने पर वह गर्भवती मिली। उसके तीसरी संतान उत्पन्न हुई।

बिजली विभाग को लगा रहे थे चोरी का करंट... विजिलेंस ने 34 को दबोचा, लगाया 2 लाख का जुर्माना..

28 नवंबर 2016 को उसके ना चाहते हुए भी तीसरी संतान होने के मामले में उसका खर्चा नहीं उठा पा रही है। इससे प्रार्थी को बतौर क्षति पूर्ति 1260000 दिलवाए जाए। मामले में न्यायालय ने पीड़िता को ₹30000 एक माह में देने के आदेश दिए एक माह में राशि नहीं देने पर राशि का 7 फ़ीसदी सालाना के हिसाब से ब्याज भी देना होगा।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned