कोविड वैक्सीनेशन : नहीं हुआ 97 साल की दादी का टीकाकरण

सुबह ही खत्म हो गए टीके, दोपहर में निराश लौटे लोग
कई सेशन साइट पर रही भीड़, सोशल डिस्टेंसिंग की नहीं हुई पालना

By: shailendra tiwari

Updated: 27 Jun 2021, 07:19 PM IST

कोटा. चिकित्सा विभाग की ओर से रविवार को जिले में 14 साइट पर कोरोना बचाव को लेकर टीकाकरण सेशन आयोजित किए गए थे। अवकाश के चलते सुबह से ही सेशन साइट्स पर लोगों की कतार लग गई। कई सेशन साइट्स भीड़ के कारण सोशल डिस्टेंसिंग की पालना नहीं हो सकी। टीके कम होने के कारण सुबह ही टीके खत्म हो गए। इससे लोगों को निराश लौटना पड़ा। केशवपुरा रामजानकी मंदिर, बंसत विहार स्थित संत रेदास सामुदायिक भवन, घोड़ा बस्ती विद्यालय, पुलिस लाइन डिस्पेंसरी में दोपहर बाद टीके खत्म हो गए।


अपने पोते पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष चमन तिवारी के साथ पुलिस लाइन डिस्पेंसरी पहुंची 97 वर्षीय दादी रामकन्या देवी को टीके की दूसरी खुराक नहीं लग पाई। तिवारी ने बताया कि उनकी दादी ने 11 मई को कोवैक्सीन की पहली खुराक ली थी। दूसरी खुराक के 42 दिन 21 जून को पूरे हो गए। दोपहर 1 बजे रामकन्या देवी पुलिस लाइन डिस्पेंसरी पहुंची, लेकिन टीके खत्म होने से उनको डोज नहीं लग पाई।

डिस्पेंसरी में उपस्थित नर्सिंगकर्मी इनायत ने बताया कि 45 प्लस वालों के टीकाकरण के लिए 100 डोज आई थी, जो लगभग साढ़े बारह बजे ही खत्म हो गई। उसके बाद रामकन्या देवी पोते के साथ घोड़ा बस्ती विद्यालय में भी गई, लेकिन वहां भी डोज खत्म होने से टीकाकरण नहीं हो पाया।

वहां उपस्थित नर्सिंग स्टाफ ने बताया कि केवल 50 डोज दूसरी खुराक के लिए आवंटित हुई थी, जो सुबह जल्दी खत्म हो गई। आरसीएचओ डॉ. रमेश कारगवाल ने बताया कि 18 प्लस व 45 प्लस वालों के टीके कम थे। ऐसे में सुबह ही खत्म हो गए। अब एक भी टीका नहीं बचा है। इससे लोग निराश लौटे हैं। जयपुर में टीकों के लिए सम्पर्क किया जा रहा है, लेकिन वहां से कोई सूचना नहीं मिल रही है। जैसे ही सूचना मिलेगी, हम गाड़ी रवाना कर मंगवा लेंगे।

Corona virus
Show More
shailendra tiwari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned