कोटा की सड़कों पर इस दिवाली मिलेगा कमरतोड़ तोहफा

Vineet singh

Publish: Oct, 13 2017 02:06:42 (IST)

Kota, Rajasthan, India
कोटा की सड़कों पर इस दिवाली मिलेगा कमरतोड़ तोहफा

इस दीपावली पर कोटा की सड़कें कमर तोड़ने वाला तोहफा देंगी। पेचवर्क की डेडलाइन खत्म होने के बाद भी सड़कों के गड्ढे नहीं भरे जा सके हैं।

बारिश में क्षतिग्रस्त सड़कों का पेचवर्क करने की डेडलाइन 15 सितम्बर को खत्म हो गई, करोड़ों रुपए खर्च भी किए जा चुके लेकिन अभी तक शहर की सड़कों की स्थिति खराब है। खतरनाक गड्ढे लोगों को जख्म दे रहे हैं। जिम्मेदार अधिकारियों को इसकी कोई फ्रिक नहीं। स्थिति ये कि दिवाली पर भी लोगों को हिचकौले खाने पड़ेंगे। 'पत्रिका टीम' ने शुक्रवार को शहर की सड़कों का जायजा लिया तो स्थिति गांवों जैसी नजर आई। मुख्य मार्गों और बाजारों की सड़कों तक का पेचवर्क नहीं हुआ। जगह-जगह गड्ढे हैं। लोगों को आवागमन में परेशानी उठानी पड़ रही।

Read More: राजस्थान के गृह मंत्री कटारिया जब पुलिस के साथ खड़े हुए तो ऐसे भागे कोटा के जनप्रतिनिधि

एरोड्राम-सीएडी रोड: जख्म दे रहे गड्ढे

दशहरा मैदान की ओर जाने वाले एरोड्राम-सीएडी सर्किल रोड पर भी गड्ढे जख्म दे रहे। जबकि हर बार दशहरा मेला शुरू होने से पहले इस सड़क का नए सिरे से डामरीकरण किया जाता है। इस बार नगर विकास न्यास से खानापूर्ति ही कर दी। हैरानी कि न्यास कार्यालय के पास के भी गड्ढे दुरुस्त नहीं हुए। सीएडी सर्किल से मेले की तरफ जाने वाली सड़क भी टूटी पड़ी है।

Read More: मौत के कुएं में भी पलता है प्यार...

केशवपुरा चौराहा : बीच चौराहे पर गड्ढा

इन दिनों शहर का सबसे व्यस्ततम चौराहा केशवपुरा है, इस चौराहे पर बीच सड़क पर काफी गहरा गड्ढा बना हुआ है। इस गड्ढे में आए दिन वाहन फंसते हैं। दादाबाड़ी फ्लाईओवर का निर्माण कार्य चलने के कारण नए कोटा के वाहनों को इस मार्ग से ही डायवर्ट कर रखा है, इसके बाद भी न्यास प्रशासन ने इस रास्ते को दुरुस्त नहीं किया।

Read More: राजस्थानी स्कूलों तक पहुंचे चंबल के घाट, किशोरों को सुनाएंगे नदी की वेदना

छावनी-रामचन्द्रपुरा-थेगड़ा की सड़क है छलनी

छावनी-रामचन्द्रपुरा पुलिया से थेगड़ा दाईं मुख्य नहर तक पूरी सड़क उखड़ी पड़ी है। छलनी हुई सड़क पर चलना ही मुश्किल हो गया है। वाहनों से धूल का गुब्बार उड़ाता है। इस कारण लोगों को खासी परेशानी उठानी पड़ती है। एक किमी सड़क पर अनगिनत गड्ढे हैं। जिनकी मरम्मत तक नहीं हुई है।

Read More: कोलंबो तक पहुंची कोटा के हेरिटेज की धमक, शहनाई से जुड़ेगा नया रिश्ता

15 सितम्बर थी डेडलाइन

न्यास और नगर निगम को शहरी सड़कों का पेचवर्क कार्य 15 सितम्बर तक पूरा करना था। संवेदकों को दिए गए कार्यादेश में भी यही शर्त थी, लेकिन अभी आधी सड़कों का तो पेचवर्क शुरू ही नहीं हुआ है। निगम को तीनों खण्डों में करीब डेढ़ करोड़ और न्यास को करीब तीन करोड़ का पेचवर्क का काम करवाना है।

Read More: थनिया भूलावेली 'कोटा दशहरा' मेला मं...

निगम क्षेत्र में हकीकत

कोटा नगर निगम क्षेत्र के खंड 1 में पूरा उत्तर विधानसभा क्षेत्र आता है। 50 लाख का पेचवर्क का कार्यादेश दिया गया, लेकिन अभी तक काम पूरा नहीं हुआ। वहीं खण्ड 2 में कोटा दक्षिण विधानसभा क्षेत्र के वार्ड आते हैं। यहां भी 50 लाख के पेचवर्क का कार्यादेश है, लेकिन काम पूरा नहीं हुआ। जबकि खण्ड 3 में लाडपुरा विधानसभा क्षेत्र और रामगंजमंडी विधानसभा क्षेत्र के निगम के वार्ड आते हैं। ताजुब्ब कि अब तक कार्यादेश ही जारी हुए हैं। इसमें भी 50 लाख का पेचवर्क होना था।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned