अंग्रेजी व गणित छोड़ें, हिन्दी भी कमजोर

Deepak Sharma

Publish: Aug, 04 2018 06:48:14 PM (IST)

Kota, Rajasthan, India
1/2

कोटा. कोटा के सरकारी स्कूलों में बेटियों की शिक्षा का स्तर जानने के लिए शुक्रवार को संभागीय आयुक्त केसी वर्मा अचानक सकतपुरा स्थित रामावि चम्बल कॉलोनी में पहुंच गए। वहां उन्होंने डेढ़ घंटे तक शिक्षक बनकर 12वीं की छात्राओं की विषयवार कक्षाएं ली। वहां उन्होंने छात्राओं से सवाल-जवाब भी किया। उन्होंने खुद भी पढ़ाया।
इस दौरान छात्राओं की अंग्रेजी व गणित तो दूर, हिन्दी भी कमजोर निकली। संभागीय आयुक्त ने जब छात्राओं को विषयवार पढ़ाना शुरू किया और कुछ स्पेलिंग, उच्चारण व सामान्य जानकारी छात्राओं से पूछी, लेकिन छात्राएं नहीं बता पाई। इस पर वे खुद चौंक गए। छात्राओं का शैक्षिक स्तर काफी कमजोर मिला। संभागीय आयुक्त ने छात्राओं से होम साइंस की स्पेलिंग पूछी, लेकिन कोई छात्रा नहीं लिख पाई। उन्होंने कुछ श्लोक भी पूछे, लेकिन वे भावार्थ सही नहीं बता पाई। गणित व सामान्य ज्ञान के कुछ सवाल भी पूछे गए, लेकिन नहीं बता पाई।


छात्राओं को मोटिवेशन, शिक्षकों को हिदायत
इस पर संभागीय आयुक्त ने छात्राओं को मोटिवेट किया, कहा कि उन्हें किसी प्रकार से घबराने की जरूरत नहीं है। वे मोटिवेशन के लिए आए हैं। वे मन लगाकर पढ़ाई करें। वहीं, उन्होंने गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा व्यवस्था नहीं पाए जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए शिक्षकों को सुधार करने के निर्देश दिए। बालिकाओं को पढ़ाई के
साथ सामान्य जानकारी भी देने के निर्देश दिए।

----------------

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned