भौंरा पहुंचे चिकित्सक, पीडि़तों को राहत

Anil Sharma

Publish: Jan, 14 2018 07:20:00 AM (IST)

Kota, Rajasthan, India
भौंरा पहुंचे चिकित्सक, पीडि़तों को राहत

भौंरा के लोगों के लिए खुशी। गांव में पिछले लंबे अर्से से चर्म रोग से पीडि़त लोगों को विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम ने राहत दी।

कोटा . जिले के भौंरा गांव में अर्से से चर्म रोग से पीडि़त मरीजों के लिए दान-पुण्य का पर्व मकर संक्रांति खुशी लेकर आया। राजस्थान पत्रिका के प्रयासों से शनिवार को पहली बार गांव में ही कोटा के विशेषज्ञ चिकित्सकों ने चर्म रोगियों का नि:शुल्क उपचार किया और दवाइयां दी। इससे रोगियों को बड़ी राहत मिली।
भौंरा गांव में घर-घर चर्म व दाद-खाज-खुजली से लोग पीडि़त हैं। गांव में उन्हें उचित उपचार नहीं मिल पा रहा, इससे मर्ज बढ़ता ही जा रहा था। ग्रामीणों को गांव में ही नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए राजस्थान पत्रिका, कोटा रोटरी क्लब राउण्ड टाउन व के.के. बिड़ला मेमोरियल (सीएफसीएल) के संयुक्त तत्वावधान में शनिवार सुबह 11 से दोपहर 3 बजे तक राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय शिविर लगाया गया। इसमें करीब 500 मरीज लाभान्वित हुए। आयोजन की कमान क्लब अध्यक्ष विमलचंद जैन ने संभाल रखी थी। मुख्य अतिथि सांगोद विधायक हीरालाल नागर थे। सीएफसीएल के महाप्रबंधक विशाल माथुर, वरिष्ठ प्रबंधक विक ास भाटिया, उप प्रबंधक शशांक राजावत भी मौजूद रहे।

यह रहे मौजूद
क्लब के रामगोपाल अग्रवाल, सुरेश काबरा व नेमीचन्द शर्मा, सीएफसीएल के स्वास्थ्य कार्यक्रम प्रतिनिधि देवेन्द्र राघव, दीपाली सिसोदिया, नंदकिशोर, सुरेन्द्र गौतम, स्कूल के प्रधानाचार्य बी.एल. बनासिया, इन्द्र कुमार खंडेलवाल, सीमलिया स्वास्थ्य केन्द्र के फार्मासिस्ट मनीषपाल, विद्यालय शाला समिति के अध्यक्ष सुरेन्द्र गौतम आदि मौजूद थे।

सुबह से लगी कतारें
सुबह 11 बजे से शुरू हुए शिविर में सुबह 9 बजे से ही सभी आयु वर्ग के मरीज पहुंचने लगे। चर्म रोग विशेषज्ञ मेडिकल कॉलेज अस्पताल के प्रोफेसर डॉ. देवेन्द्र यादव, डॉ. पूजा शर्मा, डॉ. सुमित यादव, डॉ. शिवानी सैनी व होम्योपैथिक चिकित्सक डॉ. भास्कर दाधीच, डॉ. अंजुम निशा ने मरीजों की जांच कर परामर्श दिया। मरीजों को मौके पर ही दवाइयां दी। शिविर में भौंरा के अलावा ढाबा, सीमलिया खेडा, कालारेवा, बल्लभपुरा, पाचड़ा, पाचडा की झौपडिय़ा, गडेपान, खेडली आदि गांवों से भी लोग जांच के लिए पहुंचे।

स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता जरूरी
& पत्रिका के माध्यम से शिविर लगाकर लोगों को राहत प्रदान करने का प्रयास सराहनीय है। शिविर से लोगों की स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता बढ़ी। यदि जरूरत पड़ी तो फोलोअप कैम्प भी लगाएंगे।
हीरालाल नागर, विधायक सांगोद

अच्छा प्रयास

& पत्रिका का ग्रामीण क्षेत्र में लोगों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने का प्रयास सराहनीय है। सीएफसीएल की ओर से सीएसआर के तहत चिकित्सा सेवा पर भी विशेष जोर दिया जाता है।
विशाल माथुर, महाप्रबंधक, सीएफसीएल

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned