मोटे ब्याज का झांसा देकर पति पत्नी वीसी के नाम हड़प रहे थे लोगो के पसीने की कमाई,एक करोड़ ले उड़े ,पुलिस ने दबोचा,अब सड़ेंगे जेल में

पुलिस ने बीसी चलाकर एक करोड़ रुपए की ठगी करने की सहआरोपी महिला को गिरफ्तार किया

Suraksha Rajora

November, 1909:28 PM

कोटा. दादाबाड़ी पुलिस ने बीसी चलाकर एक करोड़ रुपए की ठगी करने की सहआरोपी महिला को मंगलवार को गिरफ्तार किया। आरोपी को मंगलवार को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। वह मामला दर्ज होने के बाद से से फरार चल रही थी।

थानाधिकारी दादाबाड़ी ताराचंद ने बताया कि 28 नवम्बर 2018 को दादाबाड़ी निवासी कपिल जैसवानी ने थाने में दर्ज करवाई रिपोर्ट में बताया कि रोचा दासवावी व उसकी पत्नी मोहिनी दासवानी ने बीसी के नाम पर लोगों से हर माह रुपए जमा करवाते थे। उक्त राशि के बदले मे फर्जी रसीद देते थे। ठगी के आरोपी रोचा दासवानी के पास कई लोगों ने रकम जमा करवाई।

रकम को ब्याज समेत दुगुनी राशि देने के नाम पर बीसी चला रखी थी। जिसमें कई लोगों ने अपने करीब एक करोड़ रुपए जमा करवाए। जिसे हड़प कर दोनों भाग गए। इस पर कोटा शहर पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव के आदेश पर फरार आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए एएसपी दिलीप कुमार सैनी व वृताधिकारी संजय कुमार शर्मा के निर्देशन में विशेष टीम का गठन किया गया। टीम ने पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू की।

इस मामले में पुलिस ने कई जगह दबिश दी और आरोपी रोचा दासवानी को 11 फरवरी 2019 को दादाबाड़ी से गिरफ्तार कर लिया। जो वर्तमान में जेल में चल रहा है। रोचा दासवानी की पत्नी मोहिनी दासवानी घटना के बाद से ही फरार चल रही थी। इस पर उसके खिलाफ अनुसंधान लंबित रखा गया, जबकि रोचा दासवानी के खिलाफ न्यायालय में चालान पेश किया। पुलिस ने सहआरोपी मोहिनी दासवानी को मंगलवार को गिरफ्तार किया, जहां से उसे न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

Show More
Suraksha Rajora
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned