गिर रहा भू जल स्तर, कोटा संभाग में 560 गांव संवेदनशील

राजस्थान में वर्ष 2011-2021 के मध्‍य भूजल स्‍तर की औसत गिरावट दर 1.57 मीटर दर्ज की गई है। कोटा, बारां, बूंदी और झालावाड़ जिलों में भू जल स्तर लगातार गिर रहा है। हाड़ौती में 2252 गांव अतिदोहित श्रेणी में हैं।

By: Jaggo Singh Dhaker

Published: 17 Sep 2021, 11:59 AM IST

कोटा. प्रदेश में वर्ष 2011-2021 के मध्‍य भूजल स्‍तर की औसत गिरावट दर 1.57 मीटर दर्ज की गई है। किसी भी क्षेत्र में भूजल स्‍तर की गिरावट या वृद्धि उस क्षेत्र में भूजल निकासी एवं वर्षा जल पुनर्भरण पर निर्भर होती हैं। यह जानकारी मंगलवार को विभाग के मंत्री ने विधायक संदीप शर्मा के सवाल के लिखित जवाब में दी। मंत्री ने बताया कि मुख्‍यमंत्री जल स्‍वावलम्‍बन अभियान वर्ष 2015-16 में प्रारम्‍भ किया गया था एवं अभियान के क्रियान्‍वयन की अवधि 4 वर्ष निर्धारित थी, जो कि वर्ष 2018-19 में पूर्ण हो चुकी है। वर्ष 2019-20 में चयनित क्षेत्रों में राजीव गांधी जल संचंय योजना शुरू की गई। भूजल स्‍तर को बढ़ाने विभिन्‍न विभाग जल संरक्षण एवं भूजल पुनर्भरण संरचनाओं का निर्माण कराते हैं। वर्तमान में राजीव गांधी जल संचयन योजना एवं अटल भूजल योजना के तहत भूजल स्‍तर बढ़ाने की कार्यवाही की जाती है। 4148 आरओ संयंत्र की स्वीकृतिभूजल गुणवत्‍ता एवं पेयजल की कमी से प्रभावित वि‍भिन्‍न हेबीटेशन से स्‍वच्‍छ पेयजल आपूर्ति करने के लिए 28 जिलों में विभिन्‍न चरणों में 4148 आरओ संयंत्र की स्‍थापना की स्‍वीकृति जारी की है। इसके विरूद्ध माह अगस्‍त 2021 तक 3820 संयंत्र स्‍थापित किए जा चुके हैं। 3322 संयंत्र ऊर्जा आधारित संयत्र चालूभू-जल में केवल फ्लोराइड की मात्रा निर्धारित मानक मात्रा से अधिक होने की स्थिति में वित्‍तीय वर्ष 2015-16 से अब तक विभिन्‍न चरणों मे सौर ऊर्जा आधारित बोरवेल पम्पिंग सिस्‍टम मय डि-फ्लोराइडेशन संयंत्र स्‍थापित किए जा रहे हैं। गत अगस्‍त माह तक स्वीेकृत 3624 संयंत्रों के विरूद्ध 3322 संयंत्र स्‍थापित कर चालू किए गए। 28 परियोजनाएं प्रगति पर पेयजल आपूर्ति के दीर्घकालिक उपायों के अंतर्गत सतही जल स्‍त्रोतों पर आधारित वृहद् पेयजल परियोजनाओं का निर्माण कार्य प्रगति पर हैं। विगत 5 वर्षों की अवधि में कुल 32 परियोजनाओं में से 4 परियोजनाएं पूर्ण की जा चुकी हैं। हैं। पूर्ण की गई एवं प्रगतिरत पेयजल परियोजनाओं से 35 शहर, कस्‍बे, 5698 ग्राम एवं 3383 ढाणियों को स्‍वच्‍छ मिलेगा।

कोटा संभाग में अतिदोहित गांव
ब्लॉक-गांवों की संख्या
खैराबाद 163
सांगोद 212
अटरू 137
बारां 103
छबड़ा 193
छीपाबड़ौद 181
खानपुर 205
बकानी 174
डग 192
झालरापाटन 318
हिंडोली 184
नैनवां 190
संवेदनशील गांव
बूंदी 265
मनोहरथाना में 295

Show More
Jaggo Singh Dhaker
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned