इन्हें नहीं लॉकडाउन की परवाह, घर से बाहर निकले, वनकर्मियों से लगवाए शहर के चक्कर

कोटा. बारिश की शुरुआत होने के साथ ही चंबल के शहर में मगरमच्छों का निकलना शुरू हो गया है। रविवार को भी शहर में एक ही दिन में तीन मगरमच्छ निकले। इन्हें पकडऩे के लिए वन विभाग की टीम शहर के चक्कर काटती रही।

 

By: Hemant Sharma

Published: 30 Aug 2020, 11:02 PM IST

कोटा. बारिश की शुरुआत होने के साथ ही चंबल के शहर में मगरमच्छों का निकलना शुरू हो गया है। रविवार को भी शहर में एक ही दिन में तीन मगरमच्छ निकले। इन्हें पकडऩे के लिए वन विभाग की टीम शहर के चक्कर काटती रही।


वन विभाग ने रविवार को तीन अलग स्थानों से मगरमच्छों को रेस्क्यू किया। क्षेत्रीय वन अधिकारी संजय नागर ने बताया कि अटवाल नगर क्षेत्र से करीब साढ़े पांच फीट का मगरमच्छ पकड़ा गया। एक अन्य मगरमच्छ बोरखेड़ा क्षेत्र में 11 मुखी हनुमान मंदिर क्षेत्र से पकड़ा गया।

यह करीब 5 फीट लंबा था। नागर ने बताया कि तीसरा मगरमच्छ प्रेमनगर क्षेत्र से रेस्क्यू किया गया। यह करीब7 फीट लंबा था। इन मगर मच्छों के आने की सूचना पुलिस व क्षेत्र के लोगों से मिली थी। इस पर वीरेन्द्र सिंह, सत्यनारायण, साजिद अली, रमेश मीणा व अन्य वनकर्मियों ने मगर मच्छों को रेस्क्यू कर जलाशय में छोड़ा।


लाडपुरा रेंज के क्षेत्रीय वन अधिकारी संजय नागर ने बताया कि कोटा में हर वर्ष बारिश की शुरुआत होने के साथ ही मगरमच्छों के निकलने का क्रम शुरू हो जाता है। नदर, बरसाती नालों से मगरमच्छ बाहर आ जाते हैं। खाली भूखंडों में भरे पानी में भी मगरमच्छ आ जाते हैं। गत वर्ष भी 60 के करीब मगरमच्छ रेस्क्यू किए गए थे।

Show More
Hemant Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned