अभियंता को मुर्गा बनाने व मारपीट करने के मामले में पूर्व विधायक भवानीसिंह राजावत बरी

कोटा. केईडीएल के अभियंता को मुर्गा बनाने व मारपीट करने के मामले में पूर्व विधायक भवानीसिंह राजावत मंगलवार को पीसीपीएनडीटी न्यायालय में पेश हुए। जहां पर केईडीएल की ओर से पेश किए राजीनामे को देखते हुए उन्हें बरी कर दिया।

By: Deepak Sharma

Published: 16 Dec 2020, 12:19 AM IST

कोटा. केईडीएल के अभियंता को मुर्गा बनाने व मारपीट करने के मामले में पूर्व विधायक भवानीसिंह राजावत मंगलवार को पीसीपीएनडीटी न्यायालय में पेश हुए। जहां पर केईडीएल की ओर से पेश किए राजीनामे को देखते हुए उन्हें बरी कर दिया।

read more : जोधपुर हाईकोर्ट का संविदा पर लगे कम्प्यूटर ऑपरेटरों के मामले में बड़ा फैसला

गौरतलब है कि जुलाई 2019 में गाडिया लुहार बस्ती में गरीबों के 10 से 40 हजार के बिजली बिल आ जाने के बाद लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। राजावत तत्काल मौके पर पहुंचे थे, जिन्होंने बिजली अभियंताओं को मौके पर बुलवाकर मुर्गा बना दिया और माफ ी मांगने के लिए कहा। उसके बाद में केईडीएल ने उद्योग नगर थाने में राजावत के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था। बाद में केईडीएल द्वारा इस मुकदमे में अपना राजीनामा न्यायालय में पेश कर दिया था, जिसे देखते हुए राजावत को दोषमुक्त कर दिया।
read more : कोटा रेल मंडल: 135 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से दौड़े नई डिजाइन के एलएचबी कोच

Show More
Deepak Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned