मंत्रियों की संभावित सूची में हाड़ौती से केवल एक नाम

हालांकि इस बार संघर्ष यह भी है कि गहलोत, पायलट खेमे के कितने विधायकों को मंत्री मंडल में शामिल करेंगे।

By: shailendra tiwari

Published: 18 Dec 2018, 06:21 PM IST

कोटा. मुख्यमंत्री की शपथ लेने के साथ ही राज्य में कांग्रेस सरकार औपचारिक तौर पर गठित हो चुकी है और आने वाले कुछ दिनों में मंत्रिमंडल का गठन भी जाएगा। इस बार 2008 के मुकाबले कांग्रेस के पास अनुभवी विधायकों की कमी नहीं हैं और यही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के लिए सबसे बड़ी राहत वाली बात है। हालांकि इस बार संघर्ष यह भी है कि गहलोत, पायलट खेमे के कितने विधायकों को मंत्री मंडल में शामिल करेंगे। हाड़ौती से कुल ५ विधायक मंत्री पद की रेस में है। हालांकि पहली सूची में केवल एक नाम को जगह मिलने की संभावना है


पहली सूची में इन्हें मिलेगी जगह
मंत्रिमंडल संभवत अनुभवी और नए विधायकों से मिलाजुला तो होगा ही साथ में आगामी लोकसभा चुनाव को देखते हुए क्षेत्रीय व जातीय संतुलन वाला भी होगा। मुख्यमंत्री संभवत सी.पी.जोशी, शांति धारीवाल, बी.डी.कल्ला, जितेन्द्र सिंह, जितेन्द्र सिंह, अमीन खान, परसादी लाल मीणा, परसराम मोरदिया, महेन्द्रजीत सिंह मालवीय, हेमाराम चौधरी और राजकुमार शर्मा, भंवरलाल मेघवाल, बृजेन्द्र सिंह ओला, दीपेन्द्र सिंह शेखावत जैसे अनुभवी विधायकों को मंत्रिमंडल की पहली खेप में ही शामिल करेंगे।

इन्हें भी बनाया जा सकता है मंत्री
इसके साथ ही लालचंद कटारिया, गोविंद सिंह डोटासरा, महेश जोशी, रघु शर्मा, प्रमोद जैन भाया, हरीश चौधरी, मंजूदेवी मेघवाल, अमीन कागजी, प्रताप सिंह खाचरियावास, रमेश मीणा, मुरालीलाल मीणा, ममता भूपेश, शकुंतला रावत, विजयपाल मिर्धा और दानिश अबरार को भी मंत्री बनाया जाने की संभावना है। सूत्रों के अनुसार मंत्रिमंडल का फैसला भी आलाकमान की मंजूरी के बाद ही किया जाएगा और संभवत एक-दो दिन में ही इस संबंध में फैसला हो जाएगा।

Prev Page 1 of 2 Next
shailendra tiwari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned