नाना के यहां से छुट्टियां मनाकर घर लौट रही बालिका चंबल में बही, चंद मिनटों में मां की आंखों से ओझल हो गई बेटी

Chimbal Rivar, girls drowned in Chimbal Rivar: कोटा जिले के खातौली कस्बे में एक दस वर्षिय बालिका चंबल नदी के तेज बहाव में बह गई।

Zuber Khan

November, 2109:00 PM

खातौली. यहां चंबल नदी के झरेर पुलिया पर पानी पीते समय पैर फिसलने से एक दस वर्षीय बालिका गुरुवार दोपहर एक बजे करीब नदी में बह गई। जिसका देर शाम तक पता नहीं चल पाया। पुलिस व ग्रामीण तलाश में जुटे रहे।

Read More: बूंदी की फैक्ट्रियों में बिना गन्ने के तैयार हो रहा सैकड़ों टन जानलेवा गुड़, साबुन बनाने वाली चीजों से बन रहा गुड़

जानकारी के अनुसार बिशनपुरा थाना खातौली निवासी परी (10) पुत्री विजेंद्र बैरवा सवाईमाधोपुर से अपने माता-पिता के साथ अपने गांव बिशनपुरा आ रही थी। दोपहर को पुल पार करते समय बालिका नदी में पानी पीने के लिए गई तो उसका पैर फिसल गया जिससे वह पानी के तेज बहाव में बह गई। मौके पर मौजूद ग्रामीण आवाज सुनकर वहां आए, किन्तु बालिका का पता नहीं चल सका। घटना की सूचना तुरंत कैथुदा पुलिस चौकी पर दी। जिस पर पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे तथा मामला सवाईमाधोपुर थाना क्षेत्र का होने के कारण उन्हें सूचित किया गया। जिस पर बहरावण्डा पुलिस मौके पर पहुंची तथा बालिका को स्थानीय लोगों के साथ तलाश करने में जुट गई। समाचार लिखे जाने तक बालिका का शव नहीं मिल पाया था।

Read More: दर्दनाक मौत: घर के बाहर खेल रहा मासूम को ट्रैक्टर-ट्रॉली ने कुचला, खून से लथपथ बेटे को देख बेहोश हुई मां

चंबल के वेग से क्षतिग्रस्त हुआ पुल
बरसात के दौरान झरेर स्थित झरेल पुल कई जगह से क्षतिग्रस्त हो चुका है, किन्तु इन दिनों पुल के लेवल पर पानी होने के कारण लोगों ने स्थानीय स्तर पर ट्रैक्टर ट्राली व दुपहिया वाहन निकालने के लिए मार्ग को आवागमन योग्य बना लिया है। जिससे स्थानीय लोग इस मार्ग से ही सवाई माधोपुर आ-जा रहे हैं।

Show More
​Zuber Khan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned