बूंदी की तीन छात्राएं कुरेल नदी में बही, एक को बचाया, दो बालिकाओं का नहीं लगा सुराग, तलाश जारी

Zuber Khan

Updated: 17 Sep 2019, 04:58:30 PM (IST)

Kota, Kota, Rajasthan, India

कोटा. बूंदी जिले के रायथल गांव में मंगलवार दोपहर को तीन छात्राएं कुरेल नदी में बह गई। इनमें से एक को ग्रामीणों ने सुरक्षित निकाल लिया जबकि दो छात्राओं का तेज बहाव में बह जाने से सुराग नहीं लग पाया। ग्रामीणों ने तुरंत पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। घटना के दो घंटे बाद भी रेस्क्यू टीम मौके पर नहीं पहुंची। इससे ग्रामीण आक्रोशित हो गए और नारेबाजी कर प्रशासन के खिलाफ विरोध जताया। सूचना पर गेंडौली पुलिस मौके पर पहुंची और ग्रामीणों की सहायता से बालिकाओं की तलाश शुरू की। परिजन भी मौके पर पहुंच गए हैं।

Watch: लोकसभा अध्यक्ष ने दूरबीन से देखा 9 दिन से टापू बना बालापुरा गांव का हाल, उफनती चंबल की लहरों के बीच फंसे 400 लोग

जानकारी के अनुसार रामगंजबालाजी कस्बे के रायथल गांव निवासी प्रिया शर्मा (13) पुत्री मूलचंद शर्मा, सुमन मीणा (11) पुत्री कमलेश मीणा व निकिता मीणा (16) पुत्री कमलेश दोपहर एक-डेढ़ बजे कुरेल नदी पर नहाने गईं थी। यहां तीनों छात्राएं एक-दूसरे का हाथ पकड़ कर नहा रही थी। तभी निकिता का हाथ छूट गया और वह बहने लगी। इस पर प्रिया और सुमन उसे बचाने के लिए पानी की गहराई में उतर गई। तभी पानी के तेज बहाव में बह गई। इस दौरान निकिता पानी में डूब कर वापस ऊपर आ गई। जिस पर ग्रामीणों की नजर पड़ते ही उसे सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। जबकि, प्रिया और सुमन का कहीं सुराग नहीं लगा।

Read More: दर्द-ए-हाल: बदन पर कपड़े ही बचे, बाकी सब कुछ डूबा, गहनों के साथ विवाह की यादों को भी बहा ले गया सैलाब...

ढाई घंटे बाद पहुंची रेस्क्यू टीम
सूचना के ढाई घंटे बाद रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंची और दोनों बालिकाओं की तलाश शुरू की। ग्रामीणों ने बताया कि कुरेल-रायथल पुलिया पर अभी डेढ़ से दो फीट पानी है। पुलिया नदी में डूबी हुई है। नदी में उगे झाड़ झंकाड़ में बालिकाओं के फंसे होने की संभावना के चलते रेस्क्यू टीम व गोताखोर तलाश में जुटे हैं।

Read More: कोटा में 25 हजार घर बाढ़ की चपेट में, दर्जनों बस्तियां डूबी, 23 लोगों की तबीयत खराब, NDRF ने रेस्क्यू कर निकाला

दो दिन से गांव में अंधेरा
ग्रामीणों ने बताया कि बाढ़ के कारण विद्युत तंत्र अस्त-व्यस्त हो गया है। दो दिन से पूरा गांव अंधेरे में डूबा है। विद्युत सप्लाई बाधित होने से जलापूर्ति भी ठप हो गई। ऐसे में लोग नहाने, कपड़े धोने के लिए नदी की ओर रुख करते हैं। तीनों छात्राएं भी इसी समस्या के कारण नदी पर नहाने गईं थी। जहां यह हादसा हो गया।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned