सरकार सर्वे में ही उलझ कर रह गई और राज्यपाल राहत पहुंचा गए, बाढ़ पीडि़तों को 50 लाख देने की घोषणा

Suraksha Rajora

Publish: Sep, 21 2019 03:57:03 PM (IST) | Updated: Sep, 21 2019 03:58:19 PM (IST)

Kota, Kota, Rajasthan, India


कोटा. राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र शनिवार को कोटा, बारां, बूंदी और झालावाड़ में बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का दौरा करने आए। उन्होंने सुबह 9.30 बजे जयपुर से रवाना होकर सुबह 11 तक हवाई सर्वेक्षण किया। सर्वे के बाद कोटा हवाई अड्डे पर उन्होंने पत्रकारों से चर्चा करते हुए बताया कि राज्यपाल सहायता कोष से बाढ़ पीडि़तों की मदद के लिए 50 लाख रुपए की सहायता देने की घोषणा की है।

इको फ्रैंडली होगा इस बार कोटा का दशहरा, मेला पॉलीथिन कैरी बैग फ्री बनाने को लेकर राजस्थान पत्रिका की बड़ी पहल

राज्यपाल ने बताया कि यह राशि निर्बंध कोष की है, इसलिए ऐसे मदों पर भी खर्च की जा सकेगी जो आपदा राहत कोष में कवर नहीं होते। कोटा जिले को 15 लाख, झालावाड़ को 10 लाख, बूंदी को, 10 लाख, बारां को 5 लाख और धौलपुर जिले के लिए 10 लाख रुपए देने की घोषणा की है।

राष्ट्रीय दशहरा मेला सिने संध्या पर बवाल, नेता प्रतिपक्ष ने कहा मेला समिति ने किया कमीशन का खेल, मुस्लिम समाज भी उतरा विरोध में

राज्यपाल ने बताया की राज्य में कई जगह बाढ़ के हालत बने। करीब 22 हजार लोगों को रेस्क्यू करके निकाला गया और करीब 20 हजार घर तबाह हो गए। राज्य में सहायता के लिए 72 करोड़ रुपए दिए गए हैं। उन्होंने कहा, जब भी कोई ऐसी आपदा आती तो सबसे पहले रेस्क्यू, फिर सहायता और फिर पुर्वास का कार्य प्राथमिकता से होना चाहिए। रेस्क्यू कार्य यहां बहुत बेहतर तरीके से हुआ और सहायता दी जा रही है।

अब सरकार को पुनर्वास के लिए भी बेहतर कार्य करना चाहिए। राज्यपाल ने बताया कि आपदा सचिव ने बताया जहां ज्यादा बारिश हुई वहां पूर्व अनुमान के आधार आपदा कोर्ष में पर्याप्त फंड उपलब्ध कराया है। फंड की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। अब बीमारी फैलने की आशंका है, इसलिए पर्याप्त दवाई और चिकित्सा सुवधिा का इंतजाम रहेगा तो दिक्कत नहीं होगी। उन्होंने संभागीय आयुक्त एल.एन. सोनी और जिला कलक्टर मुक्तानंद अग्रवाल से भी राहत कार्यों को लेकर चर्चा की।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned