सीढ़ियों से लुढ़कता गया पोता तो फटा रह गया दादी का कलेजा....

Suraksha Rajora

Updated: 19 Mar 2019, 02:48:02 PM (IST)

Kota, Kota, Rajasthan, India

कोटा. दादी के साथ छत पर गया मासूम खेलते हुए सीढि़यों में गिरकर गंभीर घायल हो गया। मासूम की चीख सुनकर परिजन दौड़े और उसे अस्पताल में भर्ती कराया। हादसा कुन्हाड़ी थाना क्षेत्र के बालिता इलाके में दिनेश मेघवाल के घर में हुआ। दिनेश का चार साल का बेटा लखन सुबह दादी के साथ छत पर गया था। वहां खेलते-खेलते सीढिय़ों के पास पहुंच गया और लुढ़कता हुआ नीचे आ गिरा।

 

Read More : आचार संहिता को धता बताकर अतिक्रमी बेखौफ 'धड़ल्ले से हो रहा है काम'

 

उसके सिर समेत शरीर के विभिन्न हिस्सों में चोंटे आई। बालक के सीढि़यों से लुढ़कने पर जब दादी छत से चिल्लाई व बालक की रोने की आवाज आई तो रसोई में खाना बना रही मां दौड़ते हुए पहुंची। सीढि़यों से गिरने से बालक अचेत हो गया तथा उसके सिर व नाक में से खून आ रहा था। मां उसकी हालत देख बेसुध सी हो गई। परिजनों व पड़ोसियों ने उसे ढांढस बंधवाया तथा बालक को उपचार के लिए लेकर एमबीएस पहुंचे। चिकित्सकों ने लखन को इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कर उपचार शुरू किया।

 

Read More : Holi 2019: झांकियों में दिखाया पुलवामा हमले का दर्द, सैनिकों के शौर्य की गाथा

 

लखन को सांस लेने में दिक्कत हुई तो चिकित्सकों ने उपचार के लिए उसे अम्बू बैग से कृत्रिम सांस देने की प्रकिया शुरू की गई। फिर मां के आग्रह पर उसे अम्बू बैग सौंप दिया। अम्बू बैग हाथ में लिए बेटे को सांस देते हुए मां की आंखें भी डबडबा आती थी, लेकिन अपनी पीड़ा छिपाने के लिए उसने पूरे मुंह पर घूंघट ले लिया। वहीं दादी अपने लाडले के पास बैठी उसके जल्दी स्वस्थ होने की कामना कर बार-बार हाथ जोड़ प्रार्थना कर रही थी। चिकित्सकों के मुताबिक, रात तक लखन की हालत गंभीर बनी हुई थी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned