अक्टूबर में जांच के साथ घटा संक्रमण का ग्राफ!

जयपुर से जांच रिपोर्ट जारी होने के बाद बदले हालात, विशेषज्ञ आशंकित, लोगों में बढ़ रही लापरवाही चिंताजनक

By: mukesh gour

Published: 29 Oct 2020, 11:37 PM IST

बारां. जिले में कोरोना संक्रमण की जांच के लिए बरती जा रही सुस्ती कहीं दीपावली का मजा किरकिरा नहीं दे, इन दिनों लोगों में यह खासी चिंता है। हालांकि चिकित्सा सूत्रों का दावा है कि जिले में अक्टूबर माह में कोरोना संक्रमण में कमी आई है तथा जांच में कोरोना पॉजिटिव की संख्या भी पहले की तुलना में आधी रह गई है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों के अनुसार जिले में अब तक 32591 संदिग्धों की कोरोना जांच की गई है। इनमें 1478 लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं तथा 26 लोगों की मौत हुई है। लेकिन विभाग के इन आंकड़ों पर चिकित्सा विशेषज्ञ व लोगों को भरोसा नहीं हो रहा। पूर्व में जब जिला स्तर से जांच रिपोर्ट जारी हो रही थी, तब संक्रमितों व मौतों की संख्या अधिक दर्ज हो रही थी। लेकिन जब से राज्य स्तर पर जयपुर से जांच रिपोर्ट जारी होने लगी है, इसके बाद कोरोना संक्रमितों व कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या में खासी कमी आ गई। ऐसे में लोग जिला स्तर व राज्य स्तर पर जारी जांच व मृत्यु रिपोर्ट पर अंगुलिया उठा रहे हैं।

read also : बाघों के लिए मुफीद है हाड़ौती में 34000 हैक्टेयर का यह जंगल, मुकुंदरा से भी विशाल

सितम्बर माह पड़ा भारी
जिले में गत सितम्बर माह में कोरोना का कहर सामने आया था। इस माह जांच में 11.3 प्रतिशत सेम्पल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। जबकि सितम्बर में अगस्त माह की तुलना में जांच की संख्या घटकर 6532 रही थी, इनमें 735 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले थे। चिकित्सा सूत्रों की माने तो अब अक्टूबर माह में जिले में कोरोना का प्रकोप कम हुआ है। इस माह 3352 लोगों के सेम्पल लिए गए। इनमें 187 लोग पॉजिटिव मिले हैं। जो कुल सेंपल का 5.6 प्रतिशत है।

read also : चंबल के तट पर गणपति ने दिखाया अपना वास्तविक रूप तो चमत्कार देख श्रद्धालुओं की फटी रह गई आंखे

अगस्त में हुई जिले में सर्वाधिक जांच
जिले में सबसे अधिक कोरोना जांच गत अगस्त माह में की गई। इस माह 10 हजार 414 लोगों संदिग्धों की जांच हुई, जिसमें 419 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले। पॉजिटिव मिले लोगों का औसत जांच की तुलना में 4 प्रतिशत रहा था। वहीं गत अप्रेल माह में 899 लोगों की जांच की गई थी। इनमें पहला व एक मात्र पॉजिटिव मिला था। पॉजिटिव मिली किशोरी भंवरगढ़ कस्बे की रहने वाली थी तथा वह मध्यप्रदेश के बड़ौदा कस्बे में अपने नाना के यहां से वापस लौटते ही बीमार हो गई। तब चिकित्सा विभाग एवं स्वास्थ्य विभाग ने इसे गंभीरता से लेते हुए बालिका व उसके परिजनों को कोटा भिजवाया था, जहां कई दिन के उपचार के बाद वह स्वस्थ हो गई थी।

read also : दक्षिण निगम में आज थम जाएगा चुनावी शोर

कोरोना संक्रमण की जांच रोगी के लक्षण को देखकर कराई जाती है। इस महामारी को लेकर अब लोगों में खासी जागरूकता आई है। जांच के लिए भी लोग चिकित्सालय भी नहीं पहुंच रहे। इससे जांच में कमी आई है। उम्मीद है कि आने वाले दिनों में स्थिति में और सुधार होगा।
डॉ. राजेन्द्र मीणा, डिप्टी सीएमएचओ बारां

Corona virus
Show More
mukesh gour
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned