न्यूज रिकॉल : रोंगटे खड़े कर देने वाली चार वारदातें , बेखौफ अपराधियों का दुस्साहस चरम पर

न्यूज रिकॉल : रोंगटे खड़े कर देने वाली चार वारदातें , बेखौफ अपराधियों का दुस्साहस चरम पर

shailendra tiwari | Publish: Sep, 05 2018 03:52:38 PM (IST) Kota, Rajasthan, India

एक माह में आधा दर्जन से अधिक हुई बड़ी घटनाएं

कोटा. ये तो उदाहरण मात्र हैं, बीते दो माह में आधा दर्जन से अधिक बड़ी घटनाएं हुई हैं। ऐसी ही कई और वारदातें हैं जो शहर में आए दिन हो रही। इन घटनाओं को देखते हुए लगता है कि आमजन में विश्वास और अपराधियों में भय का संदेश देने वाली पुलिस का अपराधियों में भय खत्म हो गया है। कुछ समय पहले तक राज्य में पहले 5 स्थान पर रहने वाली शहर पुलिस का ग्राफ इन घटनाओं के कारण घटता ही जा रहा है।


कारों से चुराए लाखों रुपए
शहर के गुमानपुरा व किशोरपुरा थाना क्षेत्रों में गत दिनों दिनदहाड़े दो घंटे के भीतर ही 3 ऐसी वारदातें हुई। आधा दर्जन लोगों की गैंग ने लोगों को झांसा देकर उनकी कारों से लाखों रुपए व लैपटॉप चोरी कर लिए। संदिग्धों के फुटेज सीसीटीवी कैमरे में कैद होने के बावजूद पुलिस उन्हें नहीं तलाश पाई है। इससे अपराधियों का दुस्साहस बढ़ता जा रहा है।


हत्या का प्रयास और लूट के मामले बढ़े
शहर में गत वर्ष की तुलना में इस वर्ष शुरुआती 6 माह में जून तक हत्या का प्रयास और लूट जैसे गम्भीर मामलों में बढ़ोतरी हुई है। वर्ष 2017 में जून तक जहां हत्या के प्रयास के 34 मामले थे, इस साल अब तक बढ़कर 39 हो गए। वहीं लूट के मामले भी गत वर्ष 14 थे जो इस साल बढ़कर 15 हो गए। अपहरण व दुष्कर्म के मामले भी बढ़े हैं। अपहरण के गत वर्ष 79 के मुकाबले इस वर्ष बढ़कर 107 और दुष्कर्म के मामले 27 से बढ़कर 40 हो गए। नकबजनी व चोरी के मामलों में मामूली कमी आई है। गत वर्ष जून तक हत्या के 11 मामले हुए थे वहीं इस साल ये घटकर 9 रह गए।


पैदल गश्त व नाकाबंदी बेअसर
नए पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव ने एक सप्ताह पहले कार्यभार संभालने के बाद शहर में सभी थानाधिकारियों की पैदल गश्त और नाकाबंदी भी करवाई। इसके बावजूद शहर में मोबाइल व पर्स लूटने की घटनाएं लगातार हो रही हैं। अपराधियों का दुस्साहस चरम पर है।


केस : एक
उद्योग नगर थाना क्षेत्र में 1 जुलाई को दो जनों ने दिनदहाडे 17 वर्षीय किशोर का अपहरण किया और गोविंद नगर सामुदायिक भवन में ले जाकर बर्बरता से मारपीट की, उसके हाथ-पैर तोड़ दिए। उपचार के दौरान 8 जुलाई को उसकी मौत हो गई। पुलिस ने जानलेवा हमला और हत्या में मामला दर्ज कर दो आरोपियों को गिरफ्तार किया। जबकि परिजनों का कहना है कि इसमें अन्य आरोपी भी शामिल हैं।
केस : दो
गुमानपुरा थाना क्षेत्र में 18 जुलाई को आधा दर्जन से अधिक लोगों ने पॉलिटेक्निक कॉलेज के पास दिनदहाड़े बाइक सवार महेश योगी के टक्कर मार उसे गिराया, मारपीट की और अपहरण कर ले गए। कुछ देर बाद उसे डीसीएम चौराहे पर पटककर चले गए। मामले में पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ नामजद मामला तो दर्ज कर लिया लेकिन आरोपी अभी तक पुलिस की पकड़ में नहीं आए हैं।

केस : तीन
जवाहर नगर थाना क्षेत्र में 19 जुलाई को तलवंडी जैसी पॉश कॉलोनी में दिनदहाड़े पेट्रोल पम्प मालिक की पुत्रवधु को घर में घुसकर बदमाश ने बंधक बनाया और मारपीट कर लूटपाट की। महिला ने हिम्मत दिखाते हुए विरोध किया तो बदमाश घर से सिर्फ 5 हजार रुपए ही ले जा सका। पुलिस ने मामला तो दर्ज कर लिया लेकिन अब तक न तो आरोपी का पता चला और न ही पुलिस उस तक पहुंच पाई।
केस : चार
जवाहर नगर थाना क्षेत्र स्थित एक होटल से 12 जुलाई को दिनदहाड़े मुम्बई के तीन व्यापारियों का अपहरण किया गया। सूने फार्म हाउस पर ले जाकर उनके साथ दस से अधिक अपराधियों ने बंधक बनाकर मारपीट की। एक करोड़ रुपए फिरौती मांगी और 22 लाख वसूल भी कर लिए। उनसे नकदी व एटीएम लूट कर वे अगले दिन शहर से भाग भी गए। हालांकि पुलिस ने 5 आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया। लेकिन अन्य आरोपी अभी भी पुलिस की पकड़ में नहीं आए हैं।

&कई घटनाएं हुई हैं जिनमें से कुछ में तो आरोपियों को पकड़ भी लिया है जबकि शेष में भी पुलिस टीमें लगी हुई हैं। अपराधियों की धरपकड़ के लगातार प्रयास हैं। सोमवार को भी शहर में रात के समय दो घंटे नाकाबंदी करवाई गई। समीर कुमार, एएसपी (शहर)

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned